रायपुर : राज्य के सभी शैक्षिक संस्थाओं में अब हर सोमवार को प्रार्थना के बाद संविधान से जुड़े मुद्दों पर चर्चा

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ विधानसभा के शीतकालीन सत्र के दूसरे दिन संविधान दिवस के अवसर पर यह घोषणा की थी कि प्रदेश के शैक्षणिक संस्थाओं में छात्र-छात्राओं को संविधान की जानकारी देने के लिए प्रत्येक सोमवार को कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे ताकि बच्चों को इसकी समुचित जानकारी हो सके।

रायपुर. प्रदेश के सभी शैक्षणिक संस्थाओं में अब हर सोमवार को प्रार्थना के बाद संविधान से संबंधित विभन्न मुद्दो पर चर्चा की जाएगी। राज्य शासन के स्कूल शिक्षा विभाग ने आज इस संबंध में आदेश जारी करते हुए प्रदेश के सभी संभाग के आयुक्त और जिला कलेक्टरों को आवश्यक निर्देश दिए हैं।
जारी निर्देश के अनुसार माह के प्रथम सप्ताह में संविधान की प्रस्तावना पर चर्चा होगी वहीं दूसरे सप्ताह में संविधान में उल्लेखित मौलिक अधिकार, तीसरे सप्ताह में मौलिक कर्तव्य और चौथे सप्ताह में राज्य के नीति निदेशक तत्व पर चर्चा आयोजित की जाएगी। सरकार को उम्मीद है कि ऐसा करके विद्यार्थियों को संविधान के मूलभूत विषयों के बारे में भली प्रकार से जानकारी हो पाएगी। वर्तमान में स्कूल स्तर पर ही शिक्षकों व प्राचार्यों के विवेक पर निर्भर रहता है कि वे किस रूप में बच्चों को संविधान के बारे में जानकारी दें और किस प्रकार के कार्यक्रम आयोजित किए जायं लेकिन इस निर्णय के बाद सभी को अनिवार्य रूप से सरकारी निर्देशों का पालन करना होगा।

Show More
शिव शर्मा Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned