रायपुर, दुर्ग, चिरमिरी, रायगढ़ और धमतरी नगर निगमों में भी कांग्रेस ने मारी बाजी, अब तक कांग्रेस के 10 में से 8 महापौर निर्वाचित, ये बने महापौर

रायपुर से एजाज ढेबर, दुर्ग से धीरज बाकलीवाल, चिरमिरी से कंचन जायसवाल, रायगढ़ से जानकी काटजू और धमतरी से विजय देवांगन बने महापौर

By: bhemendra yadav

Updated: 06 Jan 2020, 07:13 PM IST

रायपुर. छत्तीसगढ़ के पांच नगर निगमों में महापौर के आज हुए चुनाव में कांग्रेस ने बाजी मारते हुए सभी में जीत दर्ज कर ली हैं। इसके साथ ही कांगेस ने अभी तक हुए सभी आठ नगर निगमों में जीत दर्ज की है। फ़िलहाल अंबिकापुर और कोरबा नगर निगम में महापौर का चुनाव होना अभी बाकी है।
रायपुर
रायपुर नगम निगम में महापौर के पद पर कांग्रेस के एजाज ढेबर ने भाजपा के मृत्युजंय दुबे को 41 के मुकाबले 29 मतों से शिकस्त दी। रायपुर नगर निगम के 70 वार्डों में कांग्रेस ने 34, भाजपा ने 29 तथा 7 पर निर्दलीय ने जीत दर्ज की थी। सभी सात निर्दलीय पार्षदों ने कांग्रेस को समर्थन देने से उसकी जीत सुनिश्चित हो गई थी। रायपुर नगर निगम पर कांग्रेस ने लगातार तीसरी बार महापौर के पद पर कब्जा किया है।
दुर्ग
दुर्ग नगर निगम में कांग्रेस के धीरज बाकलीवाल महापौर चुने गए है। उन्होने भाजपा के नरेन्द्र बंजारे को 20 मतो से शिकस्त दी। दुर्ग नगर निगम के 60 सदस्यीय सदन में पार्षद के चुनाव में कांग्रेस को 30, भाजपा के 16 निर्दलीय 13 एवं जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ का एक उम्मीदवार निर्वाचित हुआ था। दुर्ग नगर निगम पर 20 वर्षों बाद कांग्रेस को महापौर बनाने में सफलता मिली है।
चिरमिरी
चिरमिरी नगर निगम में कांग्रेस की कंचन जायसवाल निर्विरोध महापौर चुनी गई है। 40 सदस्यीय नगर निगम के सदन में कांग्रेस के 24 पार्षद चुने गए थे जबकि एक निर्दलीय बाद में कांग्रेस में शामिल हो गया था। कंचन जायसवाल कांग्रेस के मनेन्द्रगढ़ विधायक डॉ. विनय जायसवाल की पत्नी है।
रायगढ़
रायगढ़ नगर निगम में कांग्रेस की जानकी काटजू महापौर चुनी गई हैं। महापौर के निर्वाचन के दौरान कांग्रेस को 26 वोट और भाजपा को 22 मत मिले हैं। इस तरह 4 वोट के अंतर से जानकी महापौर चुनी गईं। वहीं रायगढ़ नगर निगम में सभापति कांग्रेस के ही जयंत ठेठवार को चुना गया हैं।
धमतरी
धमतरी नगर निगम के इतिहास में 138 साल बाद कांग्रेस ने पहली बार महापौर पद पर कब्जा जमाया। कांग्रेस के विजय देवांगन महापौर चुने गए है। महापौर चुनाव में कांग्रेस के विजय देवांगन को 22 मत, भाजपा के धनीराम सोनकर को 18 मत मिले, वहीं कांग्रेस के ही अनुराग मसीह निगम के नए सभापति होंगे।

बिलासपुर, राजनांदगांव और जगदलपुर में भी पहले से ही कांग्रेस का कब्जा
कांग्रेस इससे पूर्व तीन नगर निगमों बिलासपुर, राजनांदगांव एवं जगदलपुर में महापौर के पद पर जीत दर्ज कर चुकी है। बिलासपुर में कांग्रेस के राम चरण यादव, राजनांदगांव में हेमा देशमुख एवं जगदलपुर में सफीरा साहू महापौर चुनी गई है।

पिछले चुनाव में कांग्रेस के 6, भाजपा के 3 और एक निर्दलीय महापौर हुए थे निर्वाचित
नगर निगमों में पांच वर्ष पहले हुए महापौर के लिए सीधे मंतदाताओं से हुए चुनाव में कांग्रेस को छह, भाजपा को तीन तथा एक नगर निगम में निर्दलीय ने जीत दर्ज की थी। 2018 में हुए विधानसभा चुनावों में सत्ता में आई कांग्रेस सरकार ने महापौर के सीधे चुनाव की व्यवस्था को समाप्त कर इस बार केवल पार्षदों की ही सीधा चुनाव करवाया, और फिर पार्षदों ने महापौर को चुनने के लिए वोटिंग की।

Show More
bhemendra yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned