छग में कर्ज से परेशान पांचवें किसान ने दी जान

छत्तीसगढ़ के महासमुंद जिले के बागबाहरा में शनिवार को फिर एक किसान ने जहर पीकर खुदकुशी कर ली। एक पखवाड़े में प्रदेश में किसानों की खुदकुशी का यह पांचवां मामला सामने आया है।

By: deepak dilliwar

Published: 25 Jun 2017, 11:43 AM IST

रायपुर/ बागबाहरा. छत्तीसगढ़ के महासमुंद जिले के बागबाहरा में शनिवार को फिर एक किसान ने जहर पीकर खुदकुशी कर ली। एक पखवाड़े में प्रदेश में किसानों की खुदकुशी का यह पांचवां मामला सामने आया है। जबकि महासमुंद में तीन दिन में किसान आत्महत्या की दूसरी घटना है।

Read more: सुकमा मुठभेड़ में 200 जवान लापता! पुलिस का दावा-15 से 20 माओवादियों को मारा

जानकारी के अनुसार दोपहर 2 बजे जामगांव के हीराधर (52) निषाद ने जहर पी लिया। उसके परिवार में पत्नी, 3 बेटे व दो बेटियां हैं। हीराधर के पास करीब 10 हजार रुपए का बैंक का कर्ज था और उसने साहूकारों से भी कर्ज ले रखा था,  जिसे वह वापस नहीं कर पा रहा था। उसके पास खेती योग्य करीब ढाई एकड़ जमीन है। खरीफ के बाद रबी फसल भी बर्बाद हो चुकी थी। बताया जाता है, आर्थिक तंगी के कारण  छोटी बेटी की शादी नहीं कर पा रहा था। इससे वह परेशान रहता था। इससे पहले जिले मोखा ग्राम के  किसान मंथीर सिंह ने आत्महत्या कर ली थी।  

कर्ज खरीफ  फसल के लिए लिया था।
हीराधर के नाम राजस्व रिकॉर्ड में डेढ़ एकड़ खेती भूमि है, जिसमें ट्यूबवेल भी है। उसने जून 2017 में 22 हजार का कर्ज खरीफ  फसल के लिए लिया था।
एकेभोई,  तहसीलदार

Show More
deepak dilliwar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned