Lockdown ने बढ़ाई 17 दिन से बंद इस सरकारी ऑफिस की मुश्किल, रोज 2 करोड़ का हो रहा नुकसान

राजधानी में गत 17 दिनों से जिला रजिस्ट्री कार्यालय (District Registry office) में जमीनों की रजिस्ट्री का कार्य बंद पड़ा हुआ है। अब लॉकडाउन (Lockdown in Raipur) के कारण कार्यालय 28 सितंबर तक बंद ही रहेगा।

By: Ashish Gupta

Published: 23 Sep 2020, 02:19 PM IST

रायपुर. राजधानी में गत 17 दिनों से जिला रजिस्ट्री कार्यालय (District Registry office) में जमीनों की रजिस्ट्री का कार्य बंद पड़ा हुआ है। अब लॉकडाउन (Lockdown in Raipur) के कारण कार्यालय 28 सितंबर तक बंद ही रहेगा। लॉकडाउन बढ़ने की भी संभावना जताई जा रही है।

इस तरह कार्यालय में तकरीबन एक माह तक ताला लटके रहने की संभावना है। रजिस्ट्री नहीं होने से क्रेता और विक्रेताओं दोनों को असुविधा का सामना करना पड़ रहा है। बड़ी संख्या में लोग रजिस्ट्रार कार्यालय के चक्कर लगा रहे हैं। रजिस्ट्री का कार्य बंद होने से सरकार को रोजाना 2 करोड़ रुपए राजस्व का भी नुकसान हो रहा है।

रायपुर में 6 सितंबर से बंद है प्रॉपर्टी की रजिस्ट्री
कोविड -19 महामारी के चपेट में रजिस्ट्री कार्यालय के 25 स्टॉफ आने के बाद रजिस्ट्री बंद है। अब 22 सितंबर से लॉकडाउन शुरू हो गया था। लॉकडाउन के चलते पंजीयक कार्यालय में प्रॉपर्टी खरीदी और बिक्री के बाद होने वाली रजिस्ट्री का कार्य बंद पड़ा हुआ है। रायपुर में रोजाना औसतन 250 से अधिक प्रॉपर्टी की रजिस्ट्री होती है। इसमें शासन को करीब 2 करोड़ रजिस्ट्री शुल्क प्राप्त होता है। इस प्रकार 1 महीने में शासन को करीब 46 करोड़ रुपए का राजस्व मिलता है।

मजदूर से लेकर बिल्डर तक परेशान
पंजीयन कार्यालय के बंद होने से बैंकों द्वारा स्वीकृत किए गए ग्राहकों के ऋण का भुगतान नहीं हो पा रहा है। बिल्डरों के पास पैसा ना आने से मजदूर, ठेकेदार, सप्लायर, बिल्डिंग मटेरियल सप्लायर सभी की चेन रुकी हुई है ।

ई रजिस्ट्री के स्लॉट की बुकिंग भी बंद
ऑनलाइन के जरिए पंजीयन स्टांप की भी बुकिंग होती है, लेकिन पिछले 6 सितंबर से ई रजिस्ट्री के स्लॉट की बुकिंग नहीं हो रही है। आने वाले समय में जब भी रजिस्ट्री शुरू होगी, तो फिर से उसके स्लाट को री शेड्यूल कराना पड़ेगा।

खुलने पर बदल जाएगा नियम
सामान्य दिनों में तकरीबन 150 रजिस्ट्री होती थी, लेकिन अब सुबह 10:30 से शाम 4:30 बजे तक अधिकतम 35 दस्तावेजों की रजिस्ट्री हो सकेंगी। प्रत्येक रजिस्ट्री के लिए 30 मिनट का समय रखा गया है। रजिस्ट्री नहीं होने से स्टाम्प और पंजीयन शुल्क का नुकसान हो रहा है। लोगों को भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

Show More
Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned