रायपुर : छत्तीसगढ़ के बच्चों के मॉडल 'साइकिलिंग विद वेल' को 107वीं इंडियन साइंस कांग्रेस बेंगलूरू में मिली सराहना

कार्यक्रम का शुभारंभ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदुरप्पा, केन्द्रीय मंत्री विज्ञान एवं टेक्नोलॉजी डॉ. हर्षवर्धन, वाइस चासंलर यू.ए.एस. बेंगलूरू डॉ. एस. राजेन्द्र प्रसाद और आई.एस.सी.ए. कोलकाता के जनरल प्रेसिडेंट प्रोफेसर के. एस.रंगप्पा के करकमलों से किया गया।

By: Shiv Singh

Published: 06 Jan 2020, 10:15 PM IST

रायपुर. छत्तीसगढ़ की शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय अभनपुर के विद्यार्थियों द्वारा रूरल डेवलपमेंट थीम के अंतर्गत प्रस्तुत मॉडल को बहुत अच्छे मॉडल के रूप में राष्ट्रीय स्तर पर सराहा गया है। विद्यालय के विद्यार्थियों ने बेंगलूरू में 2 से 6 जनवरी तक आयोजित राष्ट्रीय किशोर वैज्ञानिक सम्मेलन 2020 का और 107वीं इंडियन साइंस कांग्रेस बेंगलूरू के यूनिवर्सिटी ऑफ एग्रीकल्चरल साइंसेस में अपने मॉडल का प्रदर्शन किया। इसमें भारत देश सहित विश्व के अनेक देशों से प्रतिभागी एवं वैज्ञानिकों ने इस कार्यक्रम में सम्मिलित हुए।
ज्ञात हो कि इस सम्मेलन के लिए शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय अभनपुर के मार्गदर्शक शिक्षक हेमन्त कुमार साहू के मार्गदर्शन में विद्यार्थियों ने साइकिलिंग विद वेल (कुआँ) नामक मॉडल बनाया है। जिसे पुराने सायकिल के ढांचे को मॉडिफ ाई करके बनाया गया है। जिसका उपयोग ग्रामीण महिलाओं एवं दिव्यांगजनों को कुएं से पानी निकालते समय होने वाली शारीरिक कठिनाइयों को कम करने और एक बार मे अधिक पानी निकालने के लिए काम को सरल करने के लिए बनाया गया है।
पहले भी मिल चुकी है मॉडल को सराहना
इस मॉडल ने विगत वर्ष राज्य स्तरीय विज्ञान गणित एवं पर्यावरण प्रदर्शनी में प्रथम स्थान प्राप्त किया था। इसका चयन 46 वीं राष्ट्रीय जवाहरलाल नेहरु विज्ञान गणित एवं पर्यावरण प्रदर्शनी 2019-20 के लिए हुआ। जहाँ से पुन: यह मॉडल आर.के.वी.एस. 2020 बेंगलूरू के लिए किया गया है। बेंगलूरू में इसका प्रस्तुतिकरण विद्यालय की छात्रा कुसुम कक्षा 11वीं और सोनिया सिन्हा कक्षा-10वीं द्वारा 2 से 6 जनवरी तक किया गया। कार्यक्रम में रूरल डेवलपमेन्ट थीम के अंतर्गत इसे बहुत अच्छे मॉडल के रूप में सराहना मिली।
राष्ट्रीय किशोर वैज्ञानिक सम्मेलन 2 से 7 जनवरी 2020 तक आयोजित कार्यक्रम में लगभग दस हजार प्रतिभागियों ने भाग लिया। स्कूली विद्यार्थियों के साथ, कॉलेज प्रोफेसर, रिसर्च फैलोशिप एवं वुमन साइंस कांग्रेस के द्वारा भी अनेक नए-नए प्रोजेक्ट में शामिल हुए। मार्गदर्शक शिक्षक के रूप में हेमन्त कुमार साहू, शिक्षक जितेंद्र कुमार सिन्हा भी गार्जियन के रुप मे शामिल हुए।
इन्होंने दी बधाई
विद्यालय की इस उपलब्धि पर सुधीश कुमार सहायक संचालक समग्र शिक्षा, विकासखंड शिक्षा अधिकारी मोहम्मद इकबाल, प्राचार्य आर.के.साहू, व्याख्याता पी.आर.तारक, आर.एल.तारक, भरत दुबे, भोला राम साहू, दौलत राम ध्रुव, खेमराज कुम्भकार, त्रिलोक पटेल, कृष्ण कुमार साहू, विश्वनाथ माहेश्वरी, सुुशीला मंडाई व्याख्याता, जमुना साहू, एच. कौर, कल्पना सायतोड़े, रमा साहू, नौशीन तरन्नुम, दीप्ती ताम्रकार, जे.बी. साहू सहित पूरे स्टाफ ने चयनित शिक्षक एवं बच्चों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी है।

Show More
Shiv Singh Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned