कॉलेज में प्रवेश लेते ही छात्र लगाएंगे पौधे, डिग्री मिलने तक खुद करेंगे देखरेख

कॉलेज में प्रवेश लेते ही छात्र लगाएंगे पौधे, डिग्री मिलने तक खुद करेंगे देखरेख

Chandu Nirmalkar | Publish: Jul, 20 2019 09:43:18 PM (IST) Raipur, Raipur, Chhattisgarh, India

Raipur news: ग्रीन आर्मी की एक टीम हर माह लगाए गए इन पौधों की बढ़त का लगातार निरीक्षण करेगी।

रायपुर. डेयरी टेक्नॉलाजी कालेज (College) में प्रवेश लेने के साथ ही अपने पहले सत्र में 37 छात्र छात्राओं ने शुक्रवार को कालेज परिसर में अपने ही नाम की पट्टिका के साथ एक पौधा लगाया। अब वे इन पौधों की (Raipur News) चार साल तक यानि डिग्री मिलने तक इसकी पूरी देखरेख कर इसे बड़ा करेंगे। पौधों (Plants) को खाद, पानी, सुरक्षा इत्यादि की जिम्मेदारी भी उनकी ही होगी। वहीं ग्रीन आर्मी की एक टीम हर माह लगाए गए इन पौधों की बढ़त का लगातार निरीक्षण करेगी।

शुक्रवार को छत्तीसगढ़ सिख ऑफि सर्स वेलफेयर एसोसिएशन और ग्रीन आर्मी के पदाधिकारियों के साथ डेयरी टेक्नोलॉजी कालेज के डीन सुधीर उप्रीत, कालेज के स्टॉफ और छात्र-छात्राओं के अभिभावकों ने डेयरी कालेज के परिसर में हरियाली लाने लगभग 100 पौधों का रोपण किया। इसमें आंवला, आम, नीम, कटहल, पीपल, अमलतास, कटहल, करंज और जामुन के पौधे लगाए गए।

इस अवसर पर छत्तीसगढ़ सिख ऑफि सर्स वेलफेयर एसोसिएशनए ग्रीन आर्मी के पदाधिकारियों ने डेयरी कालेज के डीन सुधीर उप्रीत की इस बात के लिए उनकी प्रशंसा की कि उन्होंने अपने कालेज में प्रवेश लेने वाले हर छात्र को पौधा लगाने और उसकी देखरेख करने की जो जिम्मेदारी दी है, वह उनके पर्यावरण के प्रति सजगता को दर्शाता है। कालेज परिसर में पिछले चार सालों पहले सीनियर छात्र-छात्राओं द्वारा लगाए गए पौधे अब काफ ी बड़े हो गए हैं।

इस अवसर पर छत्तीसगढ़ सिक्ख ऑफि सर्स एसोसिएशन के सचिव जगदीश सिंह जब्बल, अवतार सिंह प्लाहा, दीप सिंह जब्बल, हरबक्श सिंह, सुखबीर सिंह सिंघोत्रा, टीएस जब्बल ग्रीन आर्मी से हरदीप पुरी, मोहन वल्र्यानी, किशोर बरडिय़ा, एनआर नायड़ू, सुषमा सामंतराय, रवि ठाकुर डेयरी टेक्नालॉजी कालेज से प्रोफेसर डॉ.अशोक अग्रवाल, डॉ. वीके गोयल, डॉ. अर्चना गोयल, शकीर असगर एवं काफ ी संख्या में डेयरी कालेज के छात्र-छात्राओं ने पौधरोपण किया।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned