झोलाछाप डॉक्टर ने लगाया इंजेक्शन, महिला का हाथ काला पड़कर हुआ सुन्न

झोलाछाप डॉक्टर से बुखार को इलाज कराना एक महिला को भारी पड़ गया। उसके दिए इंजेक्शन के कारण महिला के हाथ में इंफेक्शन हो गया। हाथ काला पड़ गया और काम भी नहीं कर रहा है

By: deepak dilliwar

Published: 29 Nov 2016, 11:28 PM IST

रायपुर. झोलाछाप डॉक्टर से बुखार को इलाज कराना एक महिला को भारी पड़ गया। उसके दिए इंजेक्शन के कारण महिला के हाथ में इंफेक्शन हो गया। हाथ काला पड़ गया और काम भी नहीं कर रहा है। महिला का एम्स अस्पताल में इलाज चल रहा है।

पुलिस के मुताबिक, मामले में आरोपी महावीर नगर निवासी डॉक्टर विक्रम देवांगन (30) को मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया गया है। वह खुशी सिटी, अमलीडीह, राजेन्द्र नगर में अपना क्लीनिक चलाता है। 17 अक्टूबर को सावित्री गुप्ता (22) पति आनंद गुप्ता (35) बुखार को इलाज कराने के विक्रम के क्लीनिक गई।

आरोपी ने सावित्री को इंजेक्शन दिया और बुखार उतरने की बात कही। बुखार उतरने के बजाए इजेक्शन लगने वाली जगह पर फोड़ा उगने लगा। साथ ही हाथ काला पड़ गया। इसकी शिकायत महिला के पति ने न्यू राजेन्द्र नगर थाने में कर दी। इसके बाद महिला को अंबेडकर अस्पताल में भर्ती कराया गया। यहां से डॉक्टरों ने उसे एम्स अस्पताल रिफर कर दिया। वहां महिला का इलाज जारी है, लेकिन हालत में सुधार नहीं है। आरोपी डॉक्टर को हिरासत में लेकर न्यू राजेन्द्र नगर थाने में मध्यप्रदेश आयुर्विज्ञान परिषद अधिनियम के तहत अपराध पंजीबद्ध किया गया है।

डॉक्टर की डिग्री फर्जी
पुलिस की जांच में डॉक्टर विक्रम देवांगन की डॉक्टरी की डिग्री फर्जी पाई गई है। उसे आधुनिक पद्धति से इलाज करने का अधिकार नहीं है। इसके बावजूद उसने आधुनिक पद्धति से इलाज किया। 
Show More
deepak dilliwar
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned