छत्तीसगढ़ के लोगों में नॉनवेज का चस्का, 81 प्रतिशत का है पसंदीदा

देश में तेजी से नॉनवेजीटेरियन व्यंजन के प्रति लोगों का रूझान बढ़ रहा है। वहीं देश में नॉनवेज को पसंद करने वालों में प्रदेश का आठवां स्थान है। देश में कुल 71 प्रतिशत लोग मांसाहारी हैं

रायपुर. देश में तेजी से नॉनवेजीटेरियन व्यंजन के प्रति लोगों का रूझान बढ़ रहा है। वहीं देश में नॉनवेज को पसंद करने वालों में प्रदेश का आठवां स्थान है। देश में कुल 71 प्रतिशत लोग मांसाहारी हैं जबकि प्रदेश में 82.5 प्रतिशत लोग नॉन वेजीटेरियन पंसद करते हैं। जबकि पड़ोसी राज्य मध्यप्रदेश में 49.4 प्रतिशत लोग नॉन वेजीटेरियन हैं। देश में सबसे ज्यादा तेलंगाना में मांसाहारी पंसद किया जाता है। समुद्र किनारे बसने वाले पांच राज्य एेसे हैं जहां लगभग 98 प्रतिशत आबादी मांसाहारी है। एसआरएस और एनएसएसओ घरेलू खपत की रिपोर्ट में इसका विश्लेषण किया गया है।

मछली है पहली पंसद
15 साल से अधिक उम्र वाली आबादी पर सर्वे किया गया है। जिसमें पता चलता है नॉनवेजीटेरियन व्यंजनों में सबसे ज्यादा मछली(झींगा) को पंसद किया जाता है। मछली की खपत प्रतिमाह प्रति व्यक्ति .26 किग्रा प्रति व्यक्ति है। जबकि चिकन की मांग इसके बाद दूसरे स्थान पर है इसकी खपत प्रतिमाह प्रति व्यक्ति .21 किग्रा है। तीसरे नंबर पर मटन को लोग खाना पंसद करते हैं इसकी खपत प्रतिमाह प्रतिव्यक्ति .06 किग्रा है।

बीफ के चाहने वाले हैं कम
हाल ही में बीफ के विवाद के कारण इसे खाने वालों की संख्या काफी कम है। लोग बीफ खाने में कतरा रहे हैं सर्वे की रिपोर्ट के अनुसार बीफ या भैंस का मीट खाने वालों में प्रतिमाह प्रतिव्यक्ति की खपत मात्र .05 किग्रा है। इसके अलावा पोर्क (सुअर के मांस)पसंद करने वालों का प्रतिशत सबसे कम है। पोर्क खाने वालों में प्रतिव्यक्ति प्रतिमाह की खपत मात्र .01 किग्रा है। छत्तीसगढ़ की जनजातियों में पोर्क खाने का प्रचलन अधिक है वे सुअर को अपने घरों में पालते हैं और विभिन्न अवसरों में पोर्क के व्यंजन खाना पसंद करते हैं।
Show More
deepak dilliwar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned