scriptraipur union bank coin scam follow up | नहीं मिला सिक्का घोटाले के मोस्ट वांटेड का कोई क्लू, सिक्कों की आड़ में किया था करोड़ों घोटाला | Patrika News

नहीं मिला सिक्का घोटाले के मोस्ट वांटेड का कोई क्लू, सिक्कों की आड़ में किया था करोड़ों घोटाला

आरोपी कुछ हज़ार के सिक्कों को लाखों का बता कर उसकी एंट्री कर देता था। क्योकि सिक्कों की तादाद बहुत अधिक होती है इसलिए उसे कोई गिनता नहीं था।

रायपुर

Published: June 21, 2022 07:02:14 pm

रायपुर. यूनियन बैंक में सिक्का घोटाला करने वाले मोस्ट वांटेड आरोपी किशन बघेल का अब तक पुलिस कोई पता नहीं लगा पाई है। पुलिस को फरार आरोपी को ढूंढने में इसलिए भी ज्यादा मशक्कत करनी पड़ रही है क्योकि फरार होने से पहले आरोपी ने अपना फ़ोन रायपुर में ही छोड़ दिया था इसलिए पुलिस के लिए उसका लोकेशन ट्रैक करना भी मुश्किल हो गया है।

.

घोटाले के पैसों से कर रहा था ब्याज का धंधा
गौरतलब है की आरोपी किशन बघेल ने 5.59 करोड़ रूपए का घोटाला सिर्फ 1 लाख 30 हजार के सिक्कों से कर दिया। आरोपी इतना बिज़नेस माइंड था की घोटाले के उन पैसों से वह ब्याज का धंधा कर उनसे पैसे कमाता था। मार्केट में आरोपी के करोड़ों रूपए ब्याज में चल रहे थे। जिससे वह काफी मोटी कमाई भी कर रहा था। शातिर आरोपी ने जिन लोगों को ब्याज में पैसे दिए थे उन्ही में से 6 लोगों के नाम पर अलग बैंक में खाते खुलवाकर उन्हें किराए में ले लिया और जिनके खतों को उसने किराए पर लिया उन्हें हर महीने 5000-6000 हजार रूपए किराए के दे देता फिर उन खातों को खुद ऑपरेट कर बैंक से पैसा ट्रांसफर कर खुद निकालता या किसी दूसरे खाते में ट्रांसफर कर देता था। आरोपी ने जिन खातों को किराए पर लिया उन्हें भी बुलाकर पूछताछ की जा रही है। खाताधारकों का ऐसा कहना है की इतनी बड़ी रकम उनके खाते में है इसकी जानकारी उन्हें नहीं थी। आरोपी एटीएम की मदद से कभी भी पैसे निकालकर उन्हें उपयोग में लाता था।

कॉल डिटेल द्वारा पता लगाने की हो रही है कोशिश
अब आरोपी के मोबाइल नंबर के द्वारा पुलिस यह पता लगाने की कोशिश कर रही है की आरोपी ने किन किन लोगों को ब्याज में पैसे दिए थे। हालाँकि आरोपी का मोबाइल अभी तक पुलिस के हाथ नहीं आया है पर पुलिस आरोपी का कॉल डिटेल निकालकर यह पता लगा रही है की कौन-कौन उसके लगातार संपर्क में थे। प्राप्त जानकारी के अनुसार आरोपी किशन बघेल ने प्रेम हरपाल, आरती हरपाल, भीम महानर, उत्तम सागर, प्रकाश बाघ, रुपाली बघेल, सायबर सिटी के खाते में जमा किए हैं।

चपरासी के पद से कैशियर और फिर घोटाला करने तक का सफर
आरोपी किशन बघेल यूनियन बैंक में चपरासी के पद से से शुरुवात करके बैंक के कैशिययर तक का सफर तय किया था मगर उसका यह सफर अंततः घोटाले पर जाकर रुका। जब उसने यूनियन बैंक में नौकरी की शुरुआत की तब वह डेली वेजेस में नौकरी करता था फिर वह नियमित हुआ और क्लर्क बना फिर कैशियर के तौर पर उसका प्रमोशन हुआ और यही से सिक्का घोटाले के बीज पड़े।

कैसे किया इतना बड़ा घोटाला
आरोपी ने घोटाले का सारा खेल सिक्कों के आड़ में ही खेला है। कुछ हज़ार के सिक्कों को लाखों का बता कर वह उसकी एंट्री करता था।

आमतौर पर इंचार्ज ऑफिसर रोज के लेन-देन का हिसाब चेक करने के साथ ये देखते हैं कि कितने पैसे जमा हुए और कितने की एंट्री है। चूंकि सिक्कों की तादाद बहुत अधिक होती है इसलिए उसे कोई गिनता नहीं था इस वजह से आरोपी जितना बता देता था उतने की एंट्री ओके कर दी जाती थी और फिर वह कैश को अपने किराए के खाते में जमा कर देता था।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Maharashtra Cabinet Expansion: कल 15 मंत्री लेंगे शपथ, देवेंद्र फडणवीस को मिलेगा गृह विभाग? जानें शिंदे कैबिनेट के संभावित मंत्रियों के नामबिहारः कांग्रेस ने बुलाई विधायकों की बैठक, नीतीश कुमार के साथ जाने पर बन सकती है सहमति!Google ने दिल्ली हाई कोर्ट को दी जानकारी, हटाए केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी और उनकी बेटी के खिलाफ पोस्ट वेब लिंक'इनकी पुरानी आदत है पूरे सिस्टम पर हमला करने की', कपिल सिब्बल के बयान पर बोले कानून मंत्री किरेण रिजिजूअरविंद केजरीवाल ने कहा- देश की राजनीति में परिवारवाद और दोस्तवाद खत्म कर भारतवाद लाएंगेAmit Shah Visit To Odisha: अमित शाह बोले- ओडिशा में अच्छे दिन अनुभव कर रहे लोग, सीएम नवीन पटनायक की तारीफ भी कीAsia Cup 2022 के लिए टीम इंडिया का हुआ ऐलान, विराट कोहली-केएल राहुल की हुई वापसी'नीतीश BJP का साथ छोड़े तो हम गले लगाने को तैयार', बिहार में मचे सियासी घमासान पर बोले RJD नेता शिवानंद तिवारी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.