छत्तीसगढ़ी खेल मंड़ई का आगाज: 8 पारंपरिक खेलों में पहली बार उतरे प्रदेशभर के 500 से ज्यादा खिलाड़ी, गिल्ली डंडा में रायपुर ने मारी बाजी

छत्तीसगढ़ी खेल मंड़ई का शनिवार को आगाज हो गया। पहले दिन गिल्ली डंडा में रायपुर की टीम जीत से शुरुआत करने में सफल रही। रायपुर ने बिलासपुर को हरा दिया। पाटन में आयोजित इस टूर्नामेंट में शनिवार को गिल्ली डंडा में मेजबान पाटन की टीम भी जीत हासिल करने में कामयाब रही।

By: Dinesh Kumar

Updated: 21 Feb 2021, 01:55 AM IST

रायपुर. छत्तीसगढ़ी खेल मंड़ई का शनिवार को आगाज हो गया। पहले दिन गिल्ली डंडा में रायपुर की टीम जीत से शुरुआत करने में सफल रही। रायपुर ने बिलासपुर को हरा दिया। पाटन में आयोजित इस टूर्नामेंट में शनिवार को गिल्ली डंडा में मेजबान पाटन की टीम भी जीत हासिल करने में कामयाब रही। पाटन ने दुर्ग को 24-00 से हरा दिया। सुर पि_ुल में दुर्ग ने बालोद जिला को 37-00 से और रायगढ़ ने जांजगीर को 21-00 से शिकस्त दी। तुवे लंगरची में पाटन ने दुर्ग को और संखलि बालिका टीम दुर्ग ने पाटन को हराने में सफल रही। दो दिवसीय इस स्पर्धा में 8 पारंपरिक खेल संखलि, तुवे लंगरची, गेड़ी गेंद, नावगोदिया भौरा, गिल्ली डंडा, सुर पिट्टूल, पुधव पुक और फुगड़ी में प्रदेशभर के 500 से ज्यादा खिलाड़ी अपनी प्रतिभा दिखा रहे है। इस टूर्नामेंट में सभी पारंपरिक खेलों के फाइनल मैच रविवार को खेले जाएंगे। इससे पहले इस स्पर्धा का उद्घाटन मुख्यमंत्री के ओएसडी आशीष वर्मा, खेल संचालक श्वेता सिन्हा और आयोजक छत्तीसगढ़ ओलंपिक एसोसिएशन के महासचिव गुरुचरण सिंह होरा ने किया। इस प्रतियोगिता का रविवार को समापन समारोह आयोजित किया जाएगा, जिसमेंं मुख्यमंत्री भूपेश बघेल विजेता और उपविजेता टीमों और खिलाडिय़ों को पुरस्कृत करेंगे।

खो-खो में भिलाई कारपारेशन चैैंपियन
इस टूर्नामेंट में खो-खो का प्रदर्शन मैच भी खेला गया, जिसमें भिलाई कारपोरेशन की टीम बाजी मारने में सफल रही। फाइनल में भिलाई ने लाटमेटा राजनांदगांव को 6 अंकों से पराजित कर विजेता बनी। दुर्ग की टीम तीसरे स्थान पर रही।

Dinesh Kumar Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned