आरडीए ने जमीन का कब्जा तोड़ा, समिति ने लगाया बिना नोटिस कार्रवाई का आरोप, एसएसपी से शिकायत

समिति का दावा जमीन की रजिस्ट्री है उनके नाम पर

By: Devendra sahu

Updated: 01 Mar 2020, 01:17 AM IST

रायपुर. रायपुर विकास प्राधिकरण ने न्यू राजेन्द्रनगर के 8 ईडब्लूएस भूखंडों पर अवैध कब्जा बताते हुए इसे शनिवार को कब्जे से मुक्त किया। आरडीए की इस कार्यवाही से नाराज न्यू राजेंद्र स्थित केशव बाल कल्याण समिति ने आरडीए के खिलाफ एसएसपी से लिखित शिकायत करते हुए कार्यवाही को गलत बताया व अधिकारियों के ऊपर कार्यवाही की मांग की। समिति पदाधिकारियों ने कहा कि आरडीए ने बिना नोटिस तोडफ़ोड़ की कार्रवाई की।
आरडीए के अधिकारियों का कहना है कि प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी भीम सिंह के निर्देश पर हुई इस कार्रवाई में भूखंडों के साथ ही सडक़ पर किए गए अतिक्रमण को भी हटाया गया। उसके द्वारा वहां बाऊन्ड्रीवाल का निर्माण कर सीमेंट और लोहे की छड़ से कालम खड़ा कर भवन निर्माण किया जा रहा था। यहां शामियाना भी लगाया गया था और धार्मिक कार्यक्रम करने की तैयारी की जा रही थी। प्राधिकरण के तकनीकी और राजस्व अमले ने आज इन 8 भूखंडों पर किए गए सभी निर्माण कार्यों को जेसीबी की मदद से तोड़कऱ कब्जा ले लिया गया। प्राधिकरण द्वारा आज लगभग एक करोड़ रुपए मूल्य की संपत्तियों से अवैध कब्जा हटाया गया।

समिति ने कहा जमीन उनके नाम
केशव बाल कल्याण समिति के लीलाधर चंद्राकर ने कहा कि यह जमीन बीते १५ वर्षों से केशव बाल कल्याण समिति के नाम पर रजिस्टर्ड है। उक्त स्थल पर धार्मिक कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा था। इसी बीच आरडीए के अधिकारी पुलिस बल और जेसीबी के साथ पहुंचे और समिति का कब्जा तोड़ दिया। समिति ने बताया कि इस जमीन पर वर्ष 2015 और वर्ष 2016 में भी आरडीए और बिल्डरों ने कब्जा करने का प्रयास किया, जिसके बारे में आरडीए के सीईओ को जानकारी दी गई थी।


अन्य निर्माणों की भी तोडफ़ोड़
आरडीए के अधिकारियो ंने बताया कि ईडब्लूएस भूखंड क्रमांक 501 में रह रहे एस. भाटिया ने आवंटित अपना मकान बेचकर बाजू की 470 वर्गफुट रिक्त भूमि पर अवैध रुप से कब्जा कर मकान बनाया और उस पर निवास कर रह रहा था। प्राधिकरण ने आज उनका गेट तोड़ कर एक सप्ताह में मकान खाली करने का समय दिया। इसी प्रकार न्यू राजेन्द्रनगर भूखंड क्रमांक 608 की स्वामी निर्मला मोरे ने कार्नर के 600 वर्गफुट के रिक्त भूखंड व सडक़ की भूमि पर पक्की बाउंड्रीवाल का निर्माण किया था। प्राधिकरण ने इस भूमि पर किया गया पक्का निर्माण हटाया। इस कार्रवाई में प्राधिकरण के अधीक्षण अभियंता अनिल गुप्ता, कार्यपालन अभियंता प्रमोद बैस, सहायक अभियंता राजेन्द्र कुमार जैन, राजस्व अधिकारी नेहा भेडिय़़ा, धर्मेन्द्र सिंह सेंगर, राजस्व निरीक्षक रज्जाक खान, सी.पी. सिन्हा, देवाशीष भादुड़ी, अरूण बरोरे सहित अन्य कर्मचारी उपस्थित थे।

Devendra sahu Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned