कुलपति की फटकार के बाद कॉलेज दे रहे ऑनलाइन क्लास का रेकॉर्ड

- कुलपति ने बैठक लेकर लगाई थी जिम्मेदारों की क्लास
- खबर का असर- 22 या 23 नवम्बर को एक्सपोज में प्रकाशित समाचार।

By: Bhupesh Tripathi

Published: 27 Nov 2020, 12:38 AM IST

रायपुर। कोरोनाकाल में कॉलेजों में ऑनलाइन कक्षा लगाने का रेकॉर्ड पं. रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय को नहीं दे रहे थे। इससे ऑनलाइन कक्षाओं की वास्तविक स्थिति का पता नहीं लग पा रहा था। पत्रिका ने इसे प्रमुखता से प्रकाशित किया तब कुलपति ने जिम्मेदारों को फटकार लगाई। अब रविवि को कॉलेज हर दिन रेकॉर्ड उपलब्ध करवा रहे हैं।

गौरतलब है कि कोरोना के चलते कालेजों में ऑनलाइन कक्षा से सिलेबस पूरा का ब्योरा विश्वविद्यालय के माध्यम से उच्च शिक्षा विभाग को भेजने के निर्देश अक्टूबर माह में उच्च शिक्षा विभाग ने जारी किया था।

उच्च शिक्षा विभाग के निर्देश के बावजूद पं. रविश्ंाकर शुक्ल विश्वविद्यालय के विभागाध्यक्ष और अधीनस्थ महाविद्यालय ऑनलाइन क्लास की जानकारी सबमिट नहीं कर रहे थे। विभागाध्यक्षों और महाविद्यालय प्रबंधन की इस लापरवाही का खुलासा पत्रिका ने खबर प्रकाशित करके किया। पत्रिका में खबर प्रकाशित होने के बाद कुलपति ने बैठक लेकर विभागाध्यक्षों और अधीनस्थ महाविद्यालयों के जिम्मेदारों को फटकार लगाई और रिपोर्ट रोजाना सबमिट करने का निर्देश दिए थे। पिछले दिनों से विश्वविद्यालय और अधीनस्थ महाविद्यालयों में कितनी ऑनलाइन क्लास लगा रही है? क्लास में कितने छात्र आ रहे है? यह सब जानकारी सिलसिलेवार विश्वविद्यालय प्रबंधन तक पहुंच रही है। ऑनलाइन क्लास लगने से छात्रों की समस्याओं का भी समाधान हो रहा है।

नेटवर्क समस्या से उपस्थिति कम
विश्वविद्यालय प्रबंधन से मिली जानकारी के अनुसार ऑनलाइन क्लास में नेटवर्क इश्यू की वजह से छात्रों की संख्या वर्तमान में कम आ रही है। छात्रों की पढ़ाई में नेटवर्क बाधा ना बने, इसलिए छात्र विभागध्यक्ष या जिम्मेदार शिक्षकों को फोन करके भी अपनी समस्या का समाधान कर सकते है। विश्वविद्यालय प्रबंधन की मानें तो शहरी इलाकों की अपेक्षा ग्रामीण इलाकों के छात्रों की उपस्थिति ऑनलाइन क्लास में कम आ रही है।

स्कूल शिक्षा विभाग की तर्ज पर एेप बनाने की मांग
पं. रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय में अध्यनरत छात्रों ने स्कूल शिक्षा विभाग की तर्ज पर विश्वविद्यालय प्रबंधन और उच्च शिक्षा विभाग से एेप बनाने की मांग की है। छात्रों का कहना है, कि एेप बनेगा, तो स्कूल शिक्षा विभाग की तर्ज पर रेग्यूलर क्लास लग सकेगी। एेप में पढ़ाई होने से सिलेबस की साफ्ट कॉपी आसानी से ऑडियो वीडियो पैटर्न पर उपलब्ध हो जाएगी। छात्रों की मांग को उच्च शिक्षा विभाग के जिम्मेदारों तक पहुंचाने की बात विश्वविद्यालय प्रबंधन के जिम्मेदारों ने की है।

पं. रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय के सभी विभाग एवं अधीनस्थ महाविद्यालयों में ऑनलाइन क्लास लगाने का निर्देश विश्वविद्यालय प्रबंधन ने दिया है। सभी संकायो से रिपोर्ट भी मिलना शुरू हो गई है। छात्रों की जो समस्या है, वो शिक्षक अपने स्तर पर समाधान कर रहे है।
सुपर्णसेन गुप्ता, मीडिया प्रभारी, पं. रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय

Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned