स्वास्थ्य मंत्री ने अफसरों के साथ की मंत्रणा, जल्द निकल सकते है विभाग में भर्ती

 

- आगामी सत्र में बढ़ सकता है स्वास्थ्य का बजट .

By: Bhupesh Tripathi

Updated: 19 Jan 2021, 11:19 PM IST

रायपुर. प्रदेश सरकार वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए अपना बजट तैयार कर रही है। फरवरी में बजट सत्र शुरू होगा। इसे लेकर विभाग तैयारियां कर रहे हैं। सोमवार को स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने अपने विभाग के शीर्ष अधिकारियों के साथ लंबी मंत्रणा की। सबसे ज्यादा समत चिकित्सा शिक्षा संचालनालय से जुड़े एंजेड़ों पर दिया गया। जानकारी के मुताबिक सत्र 2021-22 में राज्य सरकार कांकेर, कोरबा और महासमुंद में मेडिक कॉलेज खोलने जा रही है। नेशनल मेडिकल कमीशन (एनएमसी) में कॉलेज खोलने के लिए आवेदन कर दिए गए हैं। तो वहीं मुख्यमंत्री ने बीते दिनों जांजगीर-चांपा में भी एक मेडिकल कॉलेज खोलने की घोषणा की है।

अभी 3 प्रस्तावित कॉलेजों को लेकर गहन चर्चा हुई। क्योंकि इन कॉलेजों में डीन की नियुक्तियां तो कर दी गई हैं, मगर स्टाफ की नियुक्ति में विभाग के पसीने छूटेंगे। क्योंकि पहले ही रायपुर और बिलासपुर मेडिकल कॉलेजों से बड़ी संख्या में रायगढ़, राजनांदगांव और अंबिकापुर मेडिकल कॉलेजों में डॉक्टरों-प्रोफेसरों के तबादले हो चुके हैं। न सिर्फ डॉक्टर, बल्कि नर्स, पैरामेडिकल स्टाफ और अन्य की भी नियुक्तियां करनी ही होंगी, वह भी समय रहते। सूत्रों के मुताबिक चर्चा इस बात को लेकर भी हुई है कि रिक्त पदों पर नियमित भर्तियां की जाएं। इसके बाद स्वास्थ्य संचालनालय, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अधिकारियों के साथ चर्चा हुई।

कोरोना को लेकर अतिरिक्त बजट की जरुरत
सूत्रों के मुताबिक बैठक में इस बात को लेकर भी चर्चा हुई कि भले ही वैक्सीन आ गई हो,मगर सैपलिंग-टेस्टिंग जारी रखनी होगी। टेस्टिंग किट, पीपीई किट, हैंड ग्लब्स और अन्य संसाधनों की आवश्यकता लगातार पड़ेगी। पिछले बजट की तुलना में इस बार स्वास्थ्य का बजट बढ़ सकता है।

Show More
Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned