गणतंत्र दिवस पर इस बार नहीं होंगे सांस्कृतिक कार्यक्रम, COVID-19 से बचाव के लिए करना होगा इन निर्देशों का पालन

- कोविड-19 से बचाव के लिए सभी निर्देशों के पालन और उपाए किए जाएंगे
- इस वर्ष किसी प्रकार के सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन नहीं किया जाएगा

By: Ashish Gupta

Updated: 13 Jan 2021, 06:15 PM IST

रायपुर. गणतंत्र दिवस (Republic Day) 26 जनवरी 2021 का आयोजन पूरे राज्य में गरिमापूर्ण तरीके से किया जाएगा। राज्य शासन के निर्णय अनुसार इस वर्ष किसी प्रकार के सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन नही किया जाएगा। समारोह में विशेष रूप से कोरोना वारियर्स डाॅक्टरों, पुलिसकर्मियों, स्वास्थ्यकर्मियों एवं स्वच्छताकर्मियों को सम्मानित किया जाएगा।

आयोजन के दौरान कोविड-19 से बचाव के लिए सभी निर्देशों का पालन और उपाए किए जाएंगे। गणतंत्र दिवस समारोह के आयोजन में स्कूली छात्र-छात्राओं को नही बुलाया जाएगा। गणतंत्र दिवस 26 जनवरी की रात्रि में प्रदेश के सभी शासकीय/सार्वजनिक भवनों/राष्ट्रीय महत्व के स्मारकों पर रोशनी की जाएगी। साथ ही सभी शासकीय और सार्वजनिक भवनों पर राष्ट्र ध्वज फहराया जाएगा।

छत्तीसगढ़ को मिली COVID 19 वैक्सीन की पहली खेप, 16 जनवरी से वैक्सीन अभियान होगा शुरू

छत्तीसगढ़ शासन सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा जारी आदेशानुसार राज्य स्तर पर राजधानी रायपुर में आयोजित गणतंत्र दिवस समारोह में माननीय राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके द्वारा ध्वजारोहण किया जाएगा। ध्वजारोहण के बाद पुलिस एवं अर्द्धसैनिक बलों की टुकड़ियों द्वारा (गार्ड ऑफ ऑनर) सलामी दी जाएगी। इसके बाद माननीय राज्यपाल के द्वारा संदेश का वाचन किया जाएगा। कार्यक्रम में कोविड-19 से बचाव के लिए जारी दिशा निर्देशों का पालन करते हुए कोरोना वारियर्स चिकित्सकों, पुलिसकर्मियों, स्वास्थ्यकर्मियों और स्वच्छताकर्मियों को सम्मानित किया जाएगा।

जिला स्तर पर आयोजित गणतंत्र दिवस समारोह में मुख्य अतिथि के द्वारा ध्वजारोहण किया जाएगा। ध्वजारोहण के बाद पुलिस एवं अर्द्धसैनिक बलों की टुकड़ियों द्वारा (गार्ड ऑफ ऑनर) सलामी दी जाएगी। इसके बाद जनता के नाम मुख्यमंत्री के संदेश का वाचन होगा। कार्यक्रम में कोविड-19 से बचाव के लिए जारी दिशा निर्देशों का पालन करते हुए कोरोना वारियर्स चिकित्सकों, पुलिसकर्मियों, स्वास्थ्य कर्मियों और स्वच्छता कर्मियों को सम्मानित किया जाएगा।

घोर नक्सल इलाके में तैनात ITBP जवान बच्चों से सीख रहे हल्बी, बदले में दे रहे अंग्रेजी-गणित का ज्ञान

जनपद पंचायत कार्यालयों में जनपद अध्यक्ष एवं नगरीय निकायों में महापौर/अध्यक्षों द्वारा ध्वजारोहण किया जाएगा। इसी तरह पंचायत मुख्यालयों में सरपंच एवं बड़े गांवों में गांव के मुखिया द्वारा ध्वजारोहण किया जाएगा।

Show More
Ashish Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned