सड़क पर रफ्तार का कहर, दोपहिया को चपेट में लेने से वकील घायल, पत्नी की हुई मौत

- कार सवार का अब तक पता नहीं लगा पाई सिविल लाइन पुलिस, अंबेडकर चौक के पास हुई घटना .

By: Bhupesh Tripathi

Published: 17 Nov 2020, 09:31 PM IST

रायपुर . सिविल लाइन इलाके में एक तेज रफ्तार कार ने दोपहिया सवार को चपेट (Road accident) में ले लिया। इससे दोपहिया सवार वकील और उनकी पत्नी बुरी तरह घायल हो गए। उनकी पत्नी की उपचार के दौरान एक निजी अस्पताल में मौत हो गई। पुलिस अब तक उस कार का पता नहीं लगा पाई है, जिसने दोपहिया को टक्कर मारा।

पुलिस के मुताबिक रविवार की शाम को समता कॉलोनी निवासी सुनील खटवानी (40) अपनी दोपहिया से पत्नी रेणु के साथ एसआरपी चौक की ओर से घड़ी चौक की ओर आ रहे थे। इस दौरान गुरु तेगबहादुर उद्यान के पास अज्ञात तेज रफ्तार कार ने उन्हें टक्कर मार दिया। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि दोनों पति-पत्नी गंभीर रूप से घायल हो गए। दोपहिया क्षतिग्रस्त हो गया। दोनों को गंभीर अवस्था में अंबेडकर अस्पताल ले गए। वहां से एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। इलाज के दौरान रेणु की मौत हो गई।

कार का पता नहीं चला
एक्सीडेंट की घटना रविवार शाम की है। घटना स्थल और उसके आसपास आईटीएमएस के सीसीटीवी कैमरे मौजूद हैं। इसके बावजूद पुलिस उस कार का पता नहीं कर सकी है, जिसने दोपहिया को टक्कर मारी है। चर्चा है कि दो कार आपस में रेस कर रहे थे। इसके चलते एक कार ने दोपहिया सवार को चपेट में ले लिया। पुलिस आरोपी कार का नंबर और उसके चालक का पता नहीं लगा पाई है।

कई मौतें हो चुकी
शाम होते ही शहर की सड़कों में अनेक कार और बाइक अधिक रफ्तार से दौड़ते हैं। इनकी रफ्तार में नियंत्रण करने वाला कोई नहीं होता है। एेसे वाहनों के खिलाफ पुलिस की सख्त कार्रवाई भी नहीं हो पाती है। अधिकांश मामलों में अधिक रफ्तार से कार या दोपहिया चलाने वाले नशे में धुत होते हैं। और अन्य वाहनों को टक्कर मारते हुए भाग जाते हैं। इससे कई लोगों की जान जा चुकी है

घटना स्थल पर लगे कैमरे में तकनीकी समस्या है। इसके चलते घटना की तस्वीर नहीं मिल पाई है। आसपास के दूसरे सीसीटीवी कैमरों की जांच की गई है। इसके माध्यम से कुछ संदिग्ध कारों का पता चला है। इसकी जांच की जा रही है।
- आरके मिश्रा, टीआई, सिविल लाइन, रायपुर

Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned