सरकारी नौकरी दिलाने का झांसा देकर दर्जन भर से 31 लाख की धोखाधड़ी

- भाजपा नेताओं से संबंध बताकर दिया झांसा, कई लोगों से धोखाधड़ी की आशंका .

By: Bhupesh Tripathi

Published: 10 Oct 2020, 12:36 AM IST

रायपुर। सरकारी नौकरी दिलाने के नाम पर दर्जन भर से अधिक शिक्षित बेरोजगारों से लाखों रुपए की धोखाधड़ी हो गई। पीडि़ता की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर विवेचना में लिया है। आरोपी ने तत्कालीन भाजपा नेताओं से अच्छे संबंध होने का झांसा देकर पीडि़तों को ठग लिया।

पुलिस के मुताबिक कचना निवासी मनीष सोनी वर्ष २०१६ में कई शिक्षित युवक-युवतियों को सरकारी नौकरी में लगवाने का झांसा देता था। वह भाजपा नेताओं से अपने अच्छे संबंध होने का झांसा देता था। इस दौरान उसने फूलचंद साहू से मंत्रालय में नौकरी लगाने के नाम पर २.५ लाख, अविनाश शर्मा से २.५ लाख, छात्रावास अधीक्षक बनाने के नाम पर अमित राय चौधरी से २.५ लाख, नवीन कुमार पांडेय से २ लाख, दिनेश रूपरेला से ४.५ लाख, पटवारी बनाने के लिए जितेंद्र यादव से ३ लाख, भृत्य के लिए रितेश ठाकुर से २.५ लाख, पटवारी बनाने के नाम पर संजय एरिना आदि से नौकरी लगवाने के नाम पर कुल ३१ लाख ५० हजार रुपए आरोपी ने ले लिया। लेकिन किसी की नौकरी नहीं लगवाई। और पिछले चार से लोगों को पैसा भी नहीं लौटा रहा है। इसकी शिकायत पीडि़तों ने थाने में की। आरोपी के खिलाफ पुलिस ने धोखाधड़ी का अपराध दर्ज कर विवेचना में लिया है।

नेताओं का झांसा
आरोपी ने कई लोगों को इसी तरह से धोखाधड़ी की है। पीड़ितों में अधिकांश लोग महासमुंद के हैं। आरोपी खुद को बड़े-बड़े भाजपा नेताओं से संबंध होने का हवाला देता था। इसके बाद भर्ती परीक्षा में शामिल होने को कहता था। परीक्षा देने के बाद उनसे एडमिट कार्ड मांग लेता था और जल्द ही नौकरी मिलने का दावा करता था। पुलिस ने आरोपी की तलाश शुरू कर दी है।

Show More
Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned