15 अगस्त को नागपुर में ध्वजारोहण के बाद शाम को रायपुर पहुंचेंगे मोहन भागवत

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत (Mohan Bhagwat) 15 अगस्त (15 August) को संघ मुख्यालय नागपुर में ध्वजारोहण करने बाद देर शाम तक सड़क मार्ग से रायपुर पहुंचेंगे।

By: Ashish Gupta

Published: 13 Aug 2020, 09:37 PM IST

रायपुर. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत (Mohan Bhagwat) 15 अगस्त (15 August) को संघ मुख्यालय नागपुर में ध्वजारोहण करने बाद देर शाम तक सड़क मार्ग से रायपुर पहुंचेंगे। रायपुर में ही रात्रि विश्राम करने के बाद वे अगले दिन 16 अगस्त को आरएसएस की शाखा में शामिल होंगे और दिनभर में संघ और उनके प्रकल्पों के चुनिंदा लोगों से मुलाकात करेंगे। इस दौरान संघ प्रमुख छत्तीसगढ़ प्रांत के कामकाज की समीक्षा करेंगे। इसके साथ ही नई कार्ययोजना और कामों का लक्ष्य तय होगा।

कोरोना संक्रमण की वजह से संघ प्रमुख के दौरे को लेकर काफी सतर्कता बरती जा रही है। इस बार किसी भी प्रकार की सामूहिक बैठक से बचा जा रहा है। संघ मुख्यालय नागपुर से उनका मिनट-टू-मिनट कार्यक्रम आना बाकी है, लेकिन जिनसे संभावित मुलाकात होनी है, उन्हें सूचना भेजने का क्रम शुरू हो गया है। माना जा रहा है कि प्रवास के दौरान संघ प्रमुख आरएसएस के लोगों के अलावा धार्मिक संगठनों, बौद्धिक संगठनों और व्यापारी संगठनों के कुछ प्रतिनिधियों से भी मुलाकात कर सकते हैं।

हर दो साल में एक बार प्रवास
संघ सूत्रों का कहना है कि सरसंघचालक का प्रवास हर दो साल में एक बार होना तय होता है। यही वजह है कि संघ प्रमुख भागवत के रायपुर प्रवास का कार्यक्रम एक साल पहले दीपावली के समय ही तय हो गया था। कोरोना संक्रमण की वजह से उनके कार्यक्रमों को महत्वपूर्ण बदलाव करना पड़ा।
ऑनलाइन बैठकों का दौर शुरू

संघ प्रमुख के प्रवास को देखते हुए राजधानी के संघ मुख्यालय जागृति मंडल में तैयारियां शुरू हो गई है। संगठन के कामकाज की समीक्षा के लिए विभिन्न प्रकल्प ऑनलाइन बैठक कर रहे हैं। बैठक के आधार पर ही रिपोर्ट तैयार की जा रही है। इस रिपोर्ट को संघ प्रमुख के सामने रखा जाएगा। सूत्रों का यह भी कहना है कि 16 अगस्त को दिनभर संघ के प्रमुख लोगों से चर्चा कर भविष्य की कार्ययोजना की जानकारी लेंगे।

इसके आधार पर संघ मुख्यालय नागपुर में बैठक होगी, तो वर्षभर के कार्यक्रमों को अंतिम रूप दिया जाएगा। यही वजह है कि संघ प्रमुख लगातार दौरे पर हैं। संघ की संरचना के मुताबिक देश को 11 क्षेत्रों में बांटा गया है। आमतौर पर इन क्षेत्रों में यह प्रवास जुलाई तक खत्म हो जाते थे, लेकिन कोरोना के कारण इस वर्ष अगस्त में प्रवास शुरू हो रहे हैं।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष और संगठन महामंत्री करेंगे मुलाकात
बताया जाता है कि संघ प्रमुख के प्रवास के दौरान वे भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय और संगठन महामंत्री पवन साय से भी मुलाकात करेंगे। वैसे पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह और नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक भी संघ प्रमुख के प्रवास के दौरान अलग से मुलाकात करते आए हैं, लेकिन डॉ. सिंह की धर्मपत्नी और नेता प्रतिपक्ष कौशिक को कोरोना संक्रमण होने की वजह से उनकी मुलाकात पर संशय बना हुआ है।

Show More
Ashish Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned