scriptrvv researcher discovered Jain Tirthankar near raipur | रविवि के शोधार्थी ने खोजी जैन तीर्थंकर की मूर्ति | Patrika News

रविवि के शोधार्थी ने खोजी जैन तीर्थंकर की मूर्ति

राजधानी से 26 किमी की दूरी पर मुर्रा गांव में हैं कई मूर्तियां, खारून पर रिसर्च कर रहे हैं ढालसिंह देवांगन

रायपुर

Updated: February 26, 2022 01:13:09 am

ताबीर हुसैन @ रायपुर. रविवि के शोधार्थी ढालसिंह देवांगन ने राजधानी से महज 26 किमी दूर मुर्रा गांव में सूर्य की मूर्ति, स्त्री स्तंभ और जैन तीर्थंकर की खोज की है। वे बताते हैं कि मेरी पीएचडी रायपुर की लाइफ लाइन खारून पर चल रही है। नदी के दोनों किनारे स्थित गांवों के पुरातत्व स्थल पर काम कर रहा हूं। इसी दौरान मुर्रा में यह मूर्तियां प्राप्त हुई। शुक्रवार को संस्कृति विभाग की ओर से ऑडिटोरियम में गढ़ों का गढ़ छत्तीसगढ़ विषय पर तीन दिनी संगोष्ठी की शुरुआत हुई। देवांगन ने बताया, संगोष्ठी में मेरा विषय था-खारून नदी तट पर नवअन्वेषित जल दुर्ग ग्राम मुर्रा की विशेषता। इसमें मैंने मुर्रा के पुरातात्विक स्थलों के बारे में बताया। किसी जमाने में मुर्रा एक टीला था। यहां एक तरफ मोट या परिखा बनाया गया था। यह एक तरह का गड्ढा होता है जिसमें पानी भरा होता है। उस दौर में यहां मगरमच्छ और सांप डाले जाते थे। ताकि दुश्मन की पहुंच टीले तक आसानी ने पहुुंच पाए। पहले दिन 3 एकेडमिक सत्र हुए जिसमें 19 शोध पत्र पढ़े गए। शनिवार को 4 एकेडमिक सत्रों में 40 रिसर्च पेपर प्रस्तुत किए जाएंगे। आखिरी दिन शोधार्थियों को विभाग की ओर से आरंग के पास रीवा में चल रहे उत्खनन का भ्रमण कराया जाएगा।
रविवि के शोधार्थी ने खोजी जैन तीर्थंकर की मूर्ति
मुर्रा गांव में जैन तीर्थंकर की मूर्ति।
रविवि के शोधार्थी ने खोजी जैन तीर्थंकर की मूर्ति
IMAGE CREDIT: Tabir Hussain
खैरागढ़ की रानी ने पुरुष वेश में लड़ा था युद्ध

खैरागढ़ विवि के शोधार्थी मोहन कुमार साहू और आराधना चतुर्वेदी ने खैरागढ़ पर अपना शोध प्रस्तुत किया। इसमें उन्होंने बताया कि मराठा शासक रघुजी भोंसले ने खडगऱाय को बुलाकर पिपरिहा, मुश्का और आमनेर नदी के बीच एक गांव बसाया। उन्हें यहां की जिम्मेदारी सौंपी थी। इससे पहले खडगऱाय खोलवा में शासन कर रहे थे। इनके उत्तराधिकारी हुए टिकैत राय। एक बार जब टिकैत लांजी गए हुए थे तो भवानी सिंह ने हमला बोल दिया। तब टिकैत राय की रानी पुरुष वेष में युद्ध लड़ा था जो तीन दिन चला। जब भवानी को पता चला कि टिकैत लांजी से लौट रहे हैं तो वह अपने गांव धमधा भागा। टिकैत ने धमधा में हमला बोल कर भवानी को पराजित किया। खडग़ाराय की वजह से इस इलाके का नाम खैरागढ़ पड़ा। वैसे जनश्रुति के अनुसार यहां खैर के पेड़ ज्यादा थे इसलिए खैरागढ़ कहा जाने लगा।
रविवि के शोधार्थी ने खोजी जैन तीर्थंकर की मूर्ति
IMAGE CREDIT: Tabir Hussain

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

पंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सुनील जाखड़ BJP में शामिल, दिल्ली में जेपी नड्डा ने दिलाई पार्टी की सदस्यताअलगाववादी नेता यासीन मलिक आतंकवाद से जुड़े मामले में दोषी करार, 25 मई को होगी अगली सुनवाईज्ञानवापी मस्जिद-श्रृंगार गौरी विवाद : वाराणसी कोर्ट की कार्रवाई पर सुप्रीम कोर्ट की रोक, शुक्रवार को होगी सुनवाईअमृतसर से ISI के दो जासूस गिरफ्तार, पाकिस्तान भेजते थे भारतीय सेना से जुड़ी खुफिया जानकारीहरियाणा के झज्जर में फुटपाथ पर सो रहे मजदूरों को ट्रक ने कुचला, 3 की मौत 11 घायलAzam Khan gets interim bail : आजम खान को सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत, 89वें केस में मिली अंतरिम जमानत'राज ठाकरे को कोई नुकसान पहुंचाएगा तो पूरा महाराष्ट्र जलेगा', मुंबई में पोस्टर लगाकर MNS ने दी चेतावनीभाजपा राष्ट्रीय पदाधिकारी बैठक : आज जयपुर आएंगे राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, एयरपोर्ट से कूकस तक 75 स्वागत द्वार तैयार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.