scriptSant Riteshwar Maharaj said in the controversy of Hijab | हिजाब का विवाद सरकार के पास, चाहे तो संसद में कानून बना दे : संत रितेश्वर महाराज | Patrika News

हिजाब का विवाद सरकार के पास, चाहे तो संसद में कानून बना दे : संत रितेश्वर महाराज

- विपक्षी पार्टी को लगता है, कि यह गलत है, तो वो आपने अनुसार बिल ले आए: संत रितेश्वर

रायपुर

Published: February 20, 2022 10:22:07 pm

रायपुर। कर्नाटक में जारी हिजाब को लेकर विवाद (Controversy over hijab in Karnataka) अब पूरे देश में बहस का दौर शुरू कर दिया है, देश , प्रदेश व दुनिया में भी कई जगह पर अभी इसी बात पर बहस हो रहा है। इस बीच छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर लेकर संत रितेश्वर महाराज शनिवार को पहुंचे। इस दौरान रितेश्वर महाराज ने मीडिया से बातचीत करते हुए , कई मुद्दों पर अपनी बात कही। वहीं हिजाब विवाद रितेश्वर महाराज ने कहा (Hijab controversy Riteshwar Maharaj said) कि इस विवाद के लिए एक ही बात कहूंगा। देश एक है, संविधान एक होना चाहिए। अगर संवैधानिक रूप से शैक्षणिक संस्थाओं (Constitutionally Educational Institutions) द्वारा निर्णय होता है, कि सभी विद्यालयों के अनुसार जो भी नियम बनाये गए है, वो सबको मानना पड़ेगा और संविधान यह कहता है। कि आप अपने धर्म के अनुसार पहनकर जा सकते हैं, तो जो संविधान कहेगा वह सब को मानना पड़ेगा।
Sant Riteshwar Maharaj said in the controversy of Hijab
Sant Riteshwar Maharaj said in the controversy of Hijab,Sant Riteshwar Maharaj said in the controversy of Hijab,Sant Riteshwar Maharaj said in the controversy of Hijab
यह भी पढ़ें : https://bit.ly/34G6fog कचना मुक्तिधाम पूरी तरह जर्जर, जनप्रतनिधि और अधिकारी नहीं दे रहे ध्यान
यह भी पढ़ें : https://bit.ly/3uR1l23 निगम अधिकारियों-कर्मचारियों को समय पर वेतन नहीं


महाराज ने कहा हमारे देश में प्रमुख है संविधान और संविधान बनाने वाले हम और आप हैं। कोई ऐसा नहीं है कि 1950 में जो संविधान बना वो अमर है कहते हैं, कि आप पूरा का पूरा संविधान बदलोगे, मैं उनसे पूछना चाहता हूं। बदल तो गया है, बदलोगे क्या?
इसके साथ ही रितेश्वर महाराज ने कहा, संविधान के लिए लोग नहीं बना, लोगों के लिए संविधान बना है। संविधान हमारी आपकी सुख-सुविधा के लिए बना है, हम संविधान पे शहीद हो जाएं, लोग मर जाए, बर्बाद हो जाए ऐसे थोड़ी होता है। सरकार बनेगा और जिस आमजन द्वारा चुनी हुई, सरकार बनेगा, उनके पक्ष में संविधान का संशोधन करती रहेगी। अब यह हिजाब का विवाद भी सरकार के पास है। सरकार चाहे तो संसद में शिक्षा को लेकर के कानून बना दे और अगर विपक्षी पार्टी (opposition party ) को लगता है, कि यह गलत है तो वो आपने अनुसार बिल ले आए।

रितेश्वर महाराज कहा कि धर्म संसद (Parliament of Religions) का होना बहुत जरूरी है, परंतु उसमें अधर्मी विचारधारा को कोई जगह न मिले, उसका विरोध होना चाहिए। जैसे कि एक डॉक्टर किडनी निकाल देता है, तो सभी डॉक्टर को गाली नहीं देना ठीक नहीं, उसी तरह अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के नाम पर धार्मिक भावनाओं को खंडित नहीं किया जाना चाहिए।
यह भी पढ़ें : https://bit.ly/3rXWqL1 इसे कौन देखेगा: पहाड़ी तालाब की बिगड़ी सूरत, शाम के बाद अब शराबियों का लगता है जमावड़ा
यह भी पढ़ें : https://bit.ly/36j7JoF निगम क्षेत्र में आने के बाद भी कचना के लोगों को सुविधा नहीं

राज्यों में शराब नीति (state liquor policy) के माध्यम से दुकानें खुलने से बढ़ती नशे की प्रवृत्ति पर लगाने में धर्म गुरु आगे, क्यों नहीं आते, ऐसे सवाल के जवाब में रिलेश्वर महाराज ने कहा कि शराब बंदी हो तभी आलोचन और न हो तभी आलोचना इसमें केवल आलोचन के सिवाय और कुछ नहीं है। किसी भी राज्य के शासन को समाज के निर्माण पर अच्छी नीतियां बनाना चाहिए। क्योंकि शराब हो या कोई नशे के कारोबार से हजारों लाखों परिवार चर्बाद हो रहे हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

Assam Flood: असम में बारिश और बाढ़ से भीषण तबाही, स्टेशन डूबे, पानी के बहाव में ट्रेन तक पलटीराजस्थान BJP में सियासी रार तेज: वसुंधरा ने शायरी से साधा निशाना... जिन पत्थरों को हमने दी थीं धड़कनें, वो आज हम पर बरस...कांग्रेस के बाद अब 20 मई को जयपुर में भाजपा की राष्ट्रीय बैठक, ये रहा पूरा कार्यक्रमTRAI के सिल्वर जुबली प्रोग्राम में PM मोदी ने लॉन्च किया 5G टेस्ट बेड, बोले- इससे आएंगे सकारात्मक बदलावपूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिंदबरम के बेटे के घर पर CBI की रेड, कार्ति बोले- कितनी बार हुई छापेमारी, भूल चुका हूं गिनतीक्रिकेट इतिहास के 5 सबसे लंबे गेंदबाज, नंबर 1 की लंबाई है The Great Khali के बराबरकुतुब मीनार और ताजमहल हिंदुओं को सौंपे भारत सरकार, कांग्रेस के एक नेता ने की है यह मांगकोर्ट में ज्ञानवापी सर्वे रिपोर्ट पेश होने में संशय, दूसरी ओर सुप्रीम कोर्ट में एक बजे सुनवाई, 11 बजे एडवोकेट कमिश्नर पहुंचेंगे जिला कोर्ट
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.