भारत बचाओं आंदोलन रैली में पीएम मोदी पर फिर गरजे भूपेश बघेल, बोले- ऐसा लगता है कि ''बंदर में हाथ में उस्तरा आ चुका है''

छत्तीसगढ़ कांग्रेस किसानों को धान का समर्थन मूल्य 2500 रुपए देना चाह रही, लेकिन मोदी किसानों के हित में बाधा डाल रहे। पीएम मोदी केवल जलाना, काटना और बांटने की राजनीति कर रहे।

रायपुर. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर किसानों के हित में बाधा डालने का आरोप लगाते हुए शनिवार को कहा कि छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार किसानों को धान खरीदी पर 2500 रुपए का समर्थन मूल्य देना चाहती है लेकिन मोदी सरकार ऐसा करने से रोक रही है। बघेल ने मोदी का बिना नाम लिए कहा कि ऐसा लगता है कि बंदर में हाथ में उस्तरा आ चुका है। भाजपा केवल जलाना, काटना और बांटना जानते हैं।

भूपेश का दावा, छत्तीसगढ़ में एक साल में एक भी किसान ने नहीं की आत्महत्या
बघेल ने दिल्ली के रामलीला मैदान में कांग्रेस की भारत बचाओ रैली को संबोधित करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ अकेला राज्य है जहां किसानों को धान खरीद 2500 रुपए प्रति क्विंटल की दर से की गई जिससे पिछले एक साल में एक भी किसान ने आत्महत्या नहीं की।

बटवारे की राजनीति कर रही केंद्र सरकार
बघेल ने कहा कहा कि मोदी सरकार कुछ भी कर ले फिर भी छत्तीसगढ़ के किसानों के साथ न्याय होगा और उनकी जेब में 2500 रुपए प्रति क्विंटल आएंगे। उन्होंने मोदी का बिना नाम लिए कहा कि ऐसा लगता है कि बंदर में हाथ में उस्तरा आ चुका है। उन्होंने भाजपा पर आरोप लगाया कि वो केवल जलाना, काटना और बांटना जानते हैं।
अब पूर्वोत्तर को जला रही केंद्र सरकार
बघेल ने कहा कि 2016 में नोटबंदी के दौरान एटीएम की कतारों में 125 लोगों की मौत हुई। जीएसटी लागू करने के बाद व्यापारी आत्महत्या करने लगे। जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाया तो कश्मीर घाटी में ताला लग गया। अब नागरिकता कानून में संशोधन के बाद सारा पूर्वोत्तर जल रहा है। उन्होंने आरोप लगाया कि मोदी सरकार देश में आग लगाना चाहती है लेकिन कांग्रेस के लोग देश बचाने के लिए जान देना जानते हैं।
मोदी किसान और व्यापार विरोधी
बघेल ने इस रैली में पार्टी के नेता राहुल गांधी को आगे लाने की वकालत करते हए कहा कि पूरे देश को यह संदेश देना होगा कि कांग्रेस की एकमात्र विकल्प है और इसके नेता राहुल गांधी हैं, जबकि केंद्र की मोदी सरकार किसान विरोधी और व्यापार विरोधी है।

Show More
bhemendra yadav Desk
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned