फैक्ट्री से निकले धुएं से स्कूली बच्चों की तबीयत बिगड़ी, सभी को सांस लेने में तकलीफ

फैक्ट्री से निकले धुएं से स्कूली बच्चों की तबीयत बिगड़ी, सभी को सांस लेने में तकलीफ

Chandu Nirmalkar | Publish: Dec, 08 2018 08:47:51 PM (IST) Raipur, Raipur, Chhattisgarh, India

उरला स्थित शासकीय प्राथमिक और पूर्व माध्यमिक शाला में रोजना की तरह सुबह 7-12 बजे की कक्षाएं संचालित की जा रही थी।

रायपुर. आवासीय क्षेत्रों के नजदीक औद्योगिक कारखानों का निर्माण आम जनता के लिए मुसीबत बनता जा रहा है। शनिवार को इन कराखानों से निकलने वाले धुएं ने प्राथमिक और माध्यमिक स्कूल के मासूम बच्चों को अपना शिकार बना लिया है। उरला स्थित शासकीय प्राथमिक और पूर्व माध्यमिक शाला में रोजना की तरह सुबह 7-12 बजे की कक्षाएं संचालित की जा रही थी।

इसी बीच तकरीबन 9-10 बजे के बीच स्कूल से लगी मुर्गी दाना फैक्ट्री से निकलने वाले जहरीले धुएं से बच्चों को श्वांस लेने में तकलीफ होने लगी। इतना ही नहीं चौथी कक्षा के नागेश नामक छात्र को बार-बार उल्टियां आने लगी। साथ ही अन्य छात्र भी इसी तरह की परेशानी महसूस करने लगे।

जिसे देखते हुए स्कूल प्रबंधन ने तुरंत नागेश को नजदीकी अस्पताल ले जाकर उसका इलाज कराया और स्कूल में छुट्टियां घोषित कर दी गईं। इतना ही नहीं उससे सटे हुए शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में भी खतरे का आभास होने पर छुट्टी कर दी गई।

शिक्षा विभाग लेगा जायजा
इस पूरे मामले की जानकारी होने पर शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने गंभीरता बरतते हुए जगहों का जायजा लेने की बात कही है। धरसींवा ब्लॉक के शिक्षा अधिकारी संजय पुरी गोस्वामी ने बताया कि उरला में प्रायमरी, मिडिल और हायर सेकंडरी तीनों स्कूल संचालित किए जाते हैं। वहीं, द्वितीय शनिवार होने की वजह से वहां का भ्रमण नहीं किया जा सका। इसके बाद सोमवार को अधिकारी उक्त क्षेत्र का जायजा लेने की बात कह रहे हैं।

सोमवार को करेंगे निरीक्षण
स्कूल से लगी मुर्गीदाने की फैक्ट्री से निकलने वाले धुएं से छात्रों को परेशानी हुई थी। इसे देखते हुए प्राचार्य ने छुट्टी का निर्देश जारी कर दिया। सोमवार को सभी विभागों से सामंजस्य स्थापित करते हुए उक्त क्षेत्र का निरीक्षण किया जाएगा।

संजय पुरी गोस्वामी, बीइओ, धरसींवा

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned