माओवाद प्रभावित लोगों को मुख्यधारा से जोड़ने के लिए सुरक्षाबलों ने बनाया "ओपन थियेटर", दिखाई जाएंगी देशभक्ति फिल्में

उद्घाटन 8 जनवरी को किया जाएगा, जिसमें हर रोज विकासपरक एवं देशभक्तिपूर्ण फिल्में दिखाई जाएंगी। इसका उद्देश्य लोगों को माओवाद से दूर रखना और स्थानीय हकीकत से रूबरू कराना है।

By: bhemendra yadav

Published: 06 Jan 2020, 08:20 PM IST

रायपुर. छत्तीसगढ़ के धुर माओवाद प्रभावित बीजापुर जिले के लोगों को देश-दुनिया के साथ मुख्य धारा से जोडऩे के उद्देश्य से सुरक्षाबलों द्वारा ओपन थियेटर बनाया गया है। इसका उद्घाटन 8 जनवरी को किया जाएगा, जिसमें हर रोज विकासपरक एवं देशभक्तिपूर्ण फिल्में दिखाई जाएंगी। वहीं पुलिस अधीक्षक दिव्यांग पटेल ने बताया कि इसका उद्देश्य लोगों को माओवाद से दूर रखना और स्थानीय हकीकत से रूबरू कराना है।
यह ओपन थियेटर तर्रेम मार्ग पर सारकेगुड़ा के पास स्थित केंद्रीय सुरक्षा बल कैंप के ठीक सामने बनाया गया है। यहां यह बताना भी लाजिमी होगा कि इस जिले में एक भी थियेटर या टॉकीज नहीं है। यह पूरा इलाका माओवादियों के आतंक के नाम पर पहचाना जाता है।
नारायणपुर के बासिंग में प्रयोग हुआ था सफल
दो साल पूर्व नारायणपुर जिले के अबूझमाड़ इलाके के बासिंग में इसी प्रकार का एक थियेटर खोला गया था, जो सफल साबित हुआ। इस थियेटर से ग्रामीणों को बाहरी दुनिया को समझने का मौका मिला। फिलहाल पुलिस और सेना के जवान बस्तर के माओवाद प्रभावित इलाकों के स्कूलों में पढ़ाने, ग्रामीणों के लिए हैल्थ कैंप और जरूरी सामग्री बांटने जैसे कई काम कर रही है।

Show More
bhemendra yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned