न चेहरे पर मास्क है और न ही सोशल डिस्टेंसिंग... यह भीड़ जानलेवा साबित हो सकती है!

लोग उड़ा रहे नियमों की धज्जियां

By: ashutosh kumar

Updated: 20 Oct 2020, 07:30 PM IST

रायपुर. कोरोना से बचाव के लिए देश व दुनिया में मास्क को अनिवार्य कर दिया गया। स्थानीय प्रशासन भी काफी सख्त कदम उठा रहा है। बल्कि लोग अभी भी बेखौफ होकर नियमों की धज्जियां उड़ा कोरोना को दावत दे रहे है।
कोरोना की रफ्तार तेज होने के बावजूद इससे बचाव के लिए बनाए गए नियमों का गंभीरता से पालन नहीं किया जा रहा है। राजधानी रायपुर में कोरोना से खौफ से बेपरवाह लोग शारीरिक दूरी की सरेआम धज्जियां उड़ा रहे हैं। मास्क पहनने की अनिवार्यता को नहीं समझ रहे हैं।
प्रदेश में कोरोना संक्रमण का सबसे अधिक खतरा बैंकों के बाहर जमा होने वाली भीड़ से है। बैंकों के बाहर पैसों के लेनदेन के लिए लोगों को काफी मशक्कत करनी पड़ रही है। लोग बैंकों के बाहर एक-दूसरे के साथ लाइन में खड़े हो रहे हैं। कई लोग शारीरिक दूरी के नियमों को भूलकर कई जगह इक_े होकर बातचीत करते दिखे। भीड़ को शारीरिक दूरी की सीख देने के लिए पुलिस को मशक्कत करनी पड़ी।
बेशक कोरोना संक्रमितों के ठीक होने की दर भी अधिक है मगर इसके नए मामले अब भी आ रहे हैं। इसके बावजूद कई लोग कोरोना से बचाव के लिए निर्धारित नियमों का पालन नहीं कर रहे हैं। बाजार, दुकानों व चौक चौराहों पर नियमों का उल्लंघन हो रहा है। लोग बिना मास्क पहने बाजार में घूमते देखे जा रहे हैं। शारीरिक दूरी का पालन न कर लोग अपनी जान जोखिम में तो डाल ही रहे हैं साथ में दूसरों के लिए भी खतरा पैदा कर रहे हैं। कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए प्रशासन लगातार लोगों को आगाह कर रहा है। पुलिस प्रशासन भी बिना मास्क के घूम रहे लोगों को समझा रही है। लापरवाही बरतने वालों के चालान भी काटे जा रहे हैं। सरकार द्वारा लगातार मास्क का इस्तेमाल करने और उचित दूरी बनाए रखने की अपील समय-समय पर की जा रही है। इसका लोगों के पर असर नहीं हो रहा है। जो लोग जागरूक हैं, वे नियमों में बंधे दिख रहे हैं।

न चेहरे पर मास्क है और न ही सोशल डिस्टेंसिंग... यह भीड़ जानलेवा साबित हो सकती है!

कोरोना महामारी से बुरी तरह प्रभावित देशों की सूची में भारत दूसरे स्थान पर है। हालांकि, राहत की बात यह है कि प्रति दस लाख की आबादी पर संक्रमण की चपेट में आने वाले और मृतकों की संख्या के औसत मामलों में भारत अन्य देशों के मुकाबले काफी पीछे है। दुनिया में कोरोना रिकवरी रेट के मामले में भारत सबसे आगे है।

आदेश जारी कर भूल जाता है प्रशासन
प्रशासन आदेश जारी कर भूल जाता है। प्रशासन ने सार्वजनिक स्थलों पर मास्क लगाना अनिवार्य किया है। आदेश के तहत अगर कोई बिना मास्क लगाए सार्वजनिक स्थान पर पाया जाता है तो उस पर 500 रुपए जुर्माना लगाने का प्रावधान है। अगर कोई व्यक्ति दूसरी बार फिर बिना मास्क लगाए सार्वजनिक स्थान पर पाया जाता है या फिर जुर्माना जमा नहीं करता है तो उस पर आईपीसी सेक्शन-188 के तहत कार्रवाई का प्रावधान है। इन आदेशों के बावजूद लोग आसानी से पूरे दिन बिना मास्क के देखे जा सकते हैं। कालोनियों और गांव में स्थिति और भी खराब है। लोगों को कोई रोकने वाला नहीं है, जिसकी वजह से सरेआम नियमों की धज्जियां उड़ाईं जा रहीं हैं।

Corona virus
ashutosh kumar Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned