नवरात्रि और दशहरे पर शो-रूम में भरपूर स्टॉक, कैशलेस ट्रांसजेक्शन में तीन गुना वृद्धि

नवरात्रि और दशहरे (Navratri and Dussehra) के मौके पर शो-रूम में स्टॉक की कमी नहीं है। इससे ऑटोमोबाइल्स व अन्य सेक्टर में बड़ी समस्या से राहत मिली है।

By: Bhawna Chaudhary

Published: 24 Oct 2020, 01:32 PM IST

रायपुर. कोविड-19 (covid-19) दौर में कंपनियों से सप्लाई में काफी सुधार आ चुका है। यही कारण है कि नवरात्रि और दशहरे (Navratri and Dussehra) के मौके पर शो-रूम में स्टॉक की कमी नहीं है। इससे ऑटोमोबाइल्स व अन्य सेक्टर में बड़ी समस्या से राहत मिली है। इससे पहले गणेश चतुर्थी में कंपनियों से सप्लाई 40 फीसदी तक घट चुकी थी।

अब ग्राहकों को नवरात्रि में मनपसंद कार और गाड़ियां मिल रही है। कुछ मॉडल्स पर एडवांस बुकिंग जारी है, जिसकी डिलिवरी भी एक हफ्ते के भीतर हो रही है। इधर बाजार में कैशलेस ट्रांजेक्शन में भी तेजी से बढ़ोतरी हुई है। ग्राहकों ने करेंसी के ज्यादा भरोसा ई- ट्रांजेक्शन को लेकर दिखाया है। ऑटोमोबाइल्स, इलेक्ट्रॉनिक्स और इलेक्ट्रिकल कारोबारियों के मुताबिक कंपनियों से हालात सामान्य होने के बाद दशहरे दिवाली के लिए भरपूर स्टॉक उपलब्ध रहेगा।

रविवार को दशहरा, खुले रहेंगे शो-रूम
अष्टमी, नवमी और दशहरे के शुभ मुहूर्तु के संयोग की वजह से बाजार को ताकत मिलेगी। रविवार को दशहरे की वजह आमतौर पर बंद रहने वाले शो-रूम भी खुले रहेंगे। दशहरे के दिन सार्वजनिक समारोह भले ना हो, लेकिन बाजार में रौनक बने रहने की पूरी संभावना है।

नाइट विजन कैमरे चालू करने के निर्देश

पुलिस प्रशासन के साथ रायपुर सराफा एसोसिएशन की बैठक में प्रशासन ने सभी कारोबारियों से नाइट विजन कैमरे चालू रखने के निर्देश दिए हैं।
एसोसिएशन ने नवरात्रि,दशहरे और दिवाली के मद्देनजर बाजार में गश्ती बढ़ाने व विशेष सुरक्षा व्यवस्था की मांग की है। इस संदर्भ में एसोसिएशन के अध्यक्ष हरख मालू ने पुलिस अधीक्षक अजय यादव से मुलाकात की। एसोसिएशन के पदाधिकारियों और पुलिस प्रशासन के बीच बैठक में त्यौहारी सीजन के मद्देनजर विभिन्न मुद्दों पर चर्चा हुई।

संक्रमण से बचने के लिए करेंसी का कम उपयोग
कोविड-19 के मद्देनजर संक्रमण की आशंकाओं से बचने के लिए बड़ी खरीदारी करते समय ग्राहक कैशलेस और मोबाइल बैंकिंग का सहारा ले रहे हैं। इसके अलावा आरटीजीएस और ऑनलाइन ट्रांजेक्शन और मोबाइल एप्लीकेशन के जरिए बड़ी राशि ट्रांसफर की जा रही है। इसमें भले न्यूनतम चार्जेस देना पड़े, लेकिन ग्राहकों का मानना है कि यह ज्यादा सुरक्षित है। एक अनुमान के मुताबिक नवरात्रि सीजन में कैशलेश ट्रांजेक्शन में तीन गुणा वृद्धि हुई है। चिल्हर बाजार में अभी भी करेंसी के जरिए ही लेन-देन जारी है।

Show More
Bhawna Chaudhary
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned