काम की खबर: निपटा लें जरूरी काम, इस तारीख से बंद रहेंगे बैंक

काम की खबर: निपटा लें जरूरी काम, इस तारीख से बंद रहेंगे बैंक

Chandu Nirmalkar | Updated: 20 Sep 2019, 10:00:43 PM (IST) Raipur, Raipur, Chhattisgarh, India

Strike in Bank: जिसकी वजह से महीने के आखिरी में चार दिन लगातार बैंकों में ताले लटके रहेंगे।

रायपुर. सरकारी बैंकों के विलय के विरोध में यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन (United forum of bank union) के चार अधिकारी संगठनों ने हड़ताल का एलान कर दिया है, जिसकी वजह से महीने के आखिरी में चार दिन लगातार बैंकों में ताले लटके (Strike in Bank) रहेंगे।

बहुत कम देखने को मिलता है जब बैंकिंग नीतियों पर अधिकारी संगठन की ओर से हड़ताल का एलान किया जाए। ज्यादातर कर्मचारी आंदोलन के लिए आगे रहते हैं, लेकिन इस मुद्दे पर अधिकारियों ने (Merger of public sector banks) बगावत छेड़ दी है।

26 सितंबर लेकर 29 सितंबर तक बैंकें बंद रहेगी। इसमें दो दिन बैंक हड़ताल और दो दिन अवकाश होने की वजह से कामकाज प्रभावित रहेगा। 26 और 27 को लगातार दो दिन हड़ताल व 28 को चौथा शनिवार और 29 सितंबर को रविवार की वजह से अवकाश रहेगा। इसके अलावा 22 अक्टूबर को ऑल इंडिया बैंक एम्पलाइज एसोसिएशन के आह्नान पर हड़ताल की घोषणा की गई है, जिसमें कर्मचारी शामिल रहेंगे। छत्तीसगढ़ बैंक एम्पलाइज एसोसिएशन के महासचिव शिरीष नलगुंडवार ने बताया कि अधिकारियों को हड़ताल में होने की वजह से बैंकों में काम-काज प्रभावित रहेगा। इस दिन कोई काम नहीं होगा, लिहाजा लोगों को बाकी बचे हुए दिन यानि 21 से लेकर 25 सितंबर तक सभी जरूरी काम निपटाने होंगे।

बॉक्स.. वार्ता हुई विफल
जानकारी के मुताबिक यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन कीं कुल 9 यूनियन जिसमें 5 कर्मचारी और 4 अधिकारी यूनियन हैं। अधिकारी यूनियन के हड़ताल में शामिल होने की वजह से बैंकों में काम ठप रहेगा। इससे पहले मुख्य श्रम आयुक्त ने प्रतिनिधिमंडल की बैठक बुलाई थी। वार्ता विफल होने की वजह से हड़ताल का निर्णय लिया गया है।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned