देश में चीनी का उत्पादन 142.70 लाख टन हुआ, छत्तीसगढ़ समेत कई राज्यों का अहम योगदान

  • छत्तीसगढ़, आंध्रप्रदेश और तेलंगाना, बिहार, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा और मध्यप्रदेश, राजस्थान, ओडिशा ने मिलकर इस साल के 15 जनवरी तक 12.81 लाख टन चीनी का उत्पादन किया है

By: ashutosh kumar

Published: 20 Jan 2021, 02:03 AM IST

  • संगठन इंडियन शुगर मिल्स एसोसिएशन ने जारी किए आंकड़े, 31 फीसदी की हुई बढ़ोत्तरी
  • उत्तर प्रदेश और महाराष्ट्र की चीनी मिलों में हुआ है सबसे ज्यादा चीनी का उत्पादन

रायपुर. देश में चीनी का उत्पादन चालू सीजन के शुरुआती साढ़े तीन महीने में पिछले साल के मुकाबले करीब 31 फीसदी बढ़कर 142.70 लाख टन हो गया है। इंडियन शुगर मिल्स एसोसिएशन के अनुसार, चालू शुगर सीजन 2020-21 में बीते 15 जनवरी तक 487 चीनी मिलों ने 142.70 लाख टन चीनी का उत्पादन किया, जो कि पिछले साल से 33.76 लाख टन यानी 30.98% अधिक है।

यहां पर उत्पादन: गुजरात में उत्पादन 4.40 लाख टन हो चुका है, जबकि पिछले साल 3.70 लाख टन हुआ था। तमिलनाडु में 1.15 लाख टन चीनी का उत्पादन हुआ है, जो पिछले साल 1.57 लाख टन से कम है। छत्तीसगढ़, आंध्रप्रदेश, तेलंगाना, बिहार, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, मध्यप्रदेश, राजस्थान और ओडिशा में उत्पादन 12.81 लाख टन हुआ है।

  • छत्तीसगढ़ में धान के बाद अब मक्के से एथेनॉल बनाने की तैयारी

छत्तीसगढ़ में धान के बाद अब मक्के से एथेनॉल बनाने की तैयारी की जा रही है। इसके लिए प्रदेश के बलरामपुर, कांकेर औैर कोंडागांव में पीपीपी मॉडल के आधार पर प्लांट लगाए जाएंगे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने फूड प्रोसेसिंग प्लांट की स्थापना पर जोर दिया साथ ही धान के अलावा अब मक्के से भी एथेनाल के उत्पादन को बढ़ावा देने की योजना शुरु करने की बात कही। मुख्यमंत्री ने प्रदेश के मक्का उत्पादक बलरामपुर, कांकेर और कोंडागांव में एथेनाल प्लांट लगाने के लिए कहा है। इसके लिए उन्होंने सहकारिता विभाग की मदद लेने कहा है। बता दें कि राज्य में चावल से एथेनाल के लिए 7 निजी कंपनियों ने एमओयू किया है।

ashutosh kumar Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned