ज्वाइंट डायरेक्टर के मौत पर सस्पेंस, पोस्टमार्टम रिपोर्ट से होगा खुलासा

- पोस्टमार्टम हुआ लेकिन रिपोर्ट नहीं मिली
- दो दिन से लापता थे ज्वाइंट डायरेक्टर

By: Ashish Gupta

Published: 05 Mar 2021, 02:48 PM IST

रायपुर. दो दिन से लापता ज्वाइंट डायरेक्टर राजेश श्रीवास्तव की मौत पर सस्पेंस बना हुआ है। नागपुर के सीताबर्डी इलाके में एक लॉज में वे मृत मिले थे। गुरुवार को उनका पोस्टमार्टम किया गया, लेकिन उसकी विस्तृत रिपोर्ट पुलिस को नहीं मिली है।

इस वजह से मौत की वजह का पता नहीं चल पाया है। उनके परिजनों के पहुंचने के बाद पंचनामा किया गया। इसके बाद शव का पोस्टमार्टम कराया गया। शाम को शव परिजनों और रायपुर पुलिस को सौंप दिया गया।

व्यापमं ने जारी की 2021 में होने वाले एग्जाम की डेट, जानिए कब होगी कौन सी परीक्षा

ज्वाइंट डायरेक्टर श्रीवास्तव सोमवार को मंत्रालय पहुंचे थे, लेकिन ऑफिस नहीं गए। इसके बाद उनका कुछ पता नहीं चला। शाम को राखी थाने में परिजनों ने उनकी गुमशुदगी रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। बुधवार को सीताबर्डी के पूजा लॉज के एक कमरे में वे मृत मिले।

नागपुर पुलिस का दावा है कि ज्वाइंट डायरेक्टर के कमरे का दरवाजा भीतर से बंद था। उसे तोड़कर भीतर घुसे थे, तो श्रीवास्तव मृत मिले। रायपुर पुलिस ने उनका मोबाइल अपने कब्जे में ले लिया है। इसकी कॉल डिटेल की जांच की जा रही है।

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में नक्सलियों की IED की चपेट में आकर CAF जवान शहीद

आशंका है कि रायपुर से गायब होने के बाद उनकी कुछ लोगों से बातचीत हुई है। इसके बाद से वे ज्यादा परेशान हो गए थे। फिलहाल रायपुर पुलिस मामले की जांच कर रही है। फिलहाल परिजनों ने भी किसी तरह का आरोप नहीं लगाया है।

रायपुर के एएसपी-शहर लखन पटले ने कहा, मृतक का पोस्टमार्टम किया गया है, लेकिन अभी पीएम रिपोर्ट नहीं मिली है। पीएम रिपोर्ट से ही मौत के असली कारणों का खुलासा हो सकेगा।

अनसुलझे सवाल
-मृतक के साथ अचानक ऐसा क्या हो गया कि उन्हें रायपुर छोडऩा पड़ा?
-खुदकुशी करना होता, तो कहीं भी कर सकते थे। नागपुर के एक छोटे से लॉज में जाने की क्या जरूरत पड़ गई?
-मोबाइल को क्यों बंद करके रखा था?
-किसी ने उन्हें प्रताडि़त किया है, तो सुसाइड नोट लिख सकते थे?
-उनके मुंह से सफेद झाग क्यों निकला था?

Show More
Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned