39 रुपए के पेट्रोल में 40 रुपए टैक्स, वैट, एक्साइज और सेस के साथ पंपों में मिल रहा 79 रुपए लीटर

डीजल की कीमतों पर गौर करें तो डीजल की कीमत पेट्रोल पंपों में प्रति लीटर 78.26 रुपए हैं, वहीं पेट्रोलियम कंपनियों की वास्तविक कीमत 42.13 रुपए है। इसमें कुल टैक्स 36,13 रुपए ग्राहकों को देना पड़ रहा है। पेट्रोल-डीजल की कीमतों में राज्य सरकार द्वारा वैट, सेस लगाया जा रहा है, वहीं केंद्र सरकार की एक्साइज ड्यूटी का भार उपभोक्ताओं पर पड़ रहा है।

By: Karunakant Chaubey

Published: 30 Jun 2020, 05:09 PM IST

रायपुर. पेट्रोल-डीजल की महंगाई ने अब लोगों की जेबें ढ़ीली करनी शुरू कर दी है। राजधानी में पेट्रोल-डीजल की कीमतें 80 रुपए प्रति लीटर से सिर्फ कुछ पैसे कम है। पेट्रोलियम कंपनियों की वास्तविक कीमतों पर गौर करें तो पेट्रोल की कीमत प्रति लीटर यह 38.73 रुपए प्रति लीटर है, लेकिन राजधानी के पेट्रोल-पंपों में आम ग्राहकों को यह फ्यूल 79.19 रुपए में मिल रहा है। पेट्रोल में कुल टैक्स पर गौर करें तो यह 40.46 रुपए हैं।

इसी तरह यदि डीजल की कीमतों पर गौर करें तो डीजल की कीमत पेट्रोल पंपों में प्रति लीटर 78.26 रुपए हैं, वहीं पेट्रोलियम कंपनियों की वास्तविक कीमत 42.13 रुपए है। इसमें कुल टैक्स 36,13 रुपए ग्राहकों को देना पड़ रहा है। पेट्रोल-डीजल की कीमतों में राज्य सरकार द्वारा वैट, सेस लगाया जा रहा है, वहीं केंद्र सरकार की एक्साइज ड्यूटी का भार उपभोक्ताओं पर पड़ रहा है। इसके अलावा पेट्रोल-पंप मालिकों का डीलर कमीशन और ट्रांसपोर्टिंग भाड़ा मिलाकर आम लोगों को पेट्रोल-डीजल बढ़ी हुई कीमत पर मिलती है। रायपुर पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन का कहना है कि डीलर कमीशन के अलावा पेट्रोलियम डीलर्स कोई अतिरिक्त चार्ज वसूल नहीं करते हैं। यह सभी शुल्क पेट्रोल-डीजल की कीमतों में शामिल रहता है।

पेट्रोल-डीजल की कीमतों 93 पैसे का अंतर

पेट्रोल के मुकाबले डीजल की कीमतों में सिर्फ 93 पैसे का अंतर रह चुका है। जो कि अब तक का सबसे नजदीकी आंकड़ा है। इससे पहले डीजल की कीमतें पेट्रोल के मुकाबले 8 से 9 रुपए कम रहती थी। डीजल की कीमतों अब पेट्रोल के मुकाबले बराबरी पर आ रही है। अब हर दिन पेट्रोलियम पदार्थों की कीमतों में फेरबदल देखा जा रहा है, जिसमें कीमतें कम होने के बजाय लगातार बढ़ती जा रही है।

मार्च, अप्रैल, मई में राहत, जून में महंगाई

लॉक-डाउन और अनलॉक के दौरान पेट्रोल-डीजल की कीमतें मार्च, अप्रैल,मई महीने तक स्थिर रही थी, लेकिन 10 जून के बाद कीमतों में लगातार तेजी देखी गई। 19 दिन के भीतर पेट्रोल-डीजल की कीमतों में 8 रुपए से अधिक की बढ़ोतरी हो चुकी है।

Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned