scriptThe foundation of yoga course in rvv raipur was Geeta shlok | गीता के इस श्लोक से पड़ी थी रविवि में योग कोर्स की नींव, नहीं था खुद का विभाग | Patrika News

गीता के इस श्लोक से पड़ी थी रविवि में योग कोर्स की नींव, नहीं था खुद का विभाग

योग विभाग के एचओडी बता रहे हैं यूजीसी से कैसे मिला अप्रूवल, उस दौर की कहानी, भगवंत सिंह की जुबानी

रायपुर

Published: June 20, 2022 09:56:28 pm

ताबीर हुसैन @ रायपुर. अंतराष्ट्रीय स्तर पर योग दिवस मनाने की शुरुआत साल 2015 में हुई है लेकिन रविवि में इसकी पढ़ाई 2002 से चल रही है। इसका श्रेय जाता है योग के एचओडी भगवंत सिंह को। उनकी सेवानिवृति को महज 9 दिन बाकी हैं। हमने जाना कि उन्होंने कब और कैसे रविवि में योग कोर्स को लागू कराया। वे बताते हैं- उस दौर में मैं यूनिवर्सिटी में फिलॉसफी का एचओडी हुआ करता था। फिलॉसफी में योग शुरू किया जाए इसे समझाने के लिए भारतीय दर्शन की किताब कुलपति और कुलसचिव को समझानी पड़ी थी। गीता के पांचवें अध्याय का चौथा श्लोक सुनाना पड़ा था- सांख्ययोगौ पृथग्बाला: प्रवदन्ति न पण्डिता:। यानी- सांख्य अर्थात दर्शन और योग को मूर्ख लोग ही अलग-अलग कहते हैं।
गीता के इस श्लोक से पड़ी थी रविवि में योग कोर्स की नींव, नहीं था खुद का विभाग
विद्यार्थियों को योग की शिक्षा देते भगवंत सिंह।
ऐसे जागा था विचार

मैं गुरुकुल कांगड़ी यूनिवर्सिटी हरिद्वार से यहां साल 1986 में आया था। मैं हरिद्वार में योग पर डिप्लोमा के लिए दाखिला लिया था लेकिन किसी वजह से परीक्षा नहीं दे पाया। मेरे मन में वह बात थाी। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने ने संस्कृत और योग को बढ़ावा देने का प्रयास किया था। उस वक्त यूजीसी के तत्कालीन चेयरमैन ने देश के सभी कुलपतियों को चिट्ठी भेजी थी कि फिलॉसफी की स्थिति खराब होती जा रही है। इसलिए एप्लाइड फिलॉसफी के कोर्सेस खोले जाएं। मैंने यूजीसी को प्रस्ताव भेजा था। प्रस्ताव को हरी झंडी मिली। आज रविवि के विद्यार्थी ओडिशा और एमपी में टीचर हैं।
विभाग से अलग हुई थी शुरुआत

2002 में यहां पीजी डिप्लोमा इन योगा एजुकेशन एंड फिलॉसफी, सर्टिफिकेट कोर्स इन योगा एंड फिलॉसफी कोर्स योग केंद्र के रूप में शुरू किए गए थे। जो कि विभाग से अलग चल रहे थे। 2005 में पीजी डिग्री कोर्स एमए इन एप्लाइड फिलॉसफी एंड योग, इसी साल योग केंद्र विभाग में मर्ज हो गया। नाम पड़ा- दर्शन योग विभाग। आज तीन कोर्सेस हैं- एमए एप्लाइड फिलॉसफी एंड योग 4 सेमेस्टर, पीजी डिप्लोमा इन योगा एजुकेशन एंड फिलॉसफी दो सेमेस्टर, सर्टिफिकेट कोर्स इन योगा एंड फिलॉसफी एक सेमेस्टर। पहली बैच में ही 105 विद्यार्थियों ने प्रवेश लिया था। जिसमें 34 स्पोट्र्स ऑफिसर थे। सालभर हम कैंपस के चार अलग-अलग स्थानों में पढ़ाते रहे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मौसम अलर्ट: जल्द दस्तक देगा मानसून, राजस्थान के 7 जिलों में होगी बारिशइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलस्कूलों में तीन दिन की छुट्टी, जानिये क्यों बंद रहेंगे स्कूल, जारी हो गया आदेश1 जुलाई से बदल जाएगा इंदौरी खान-पान का तरीका, जानिये क्यों हो रहा है ये बड़ा बदलावNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयमोदी सरकार ने एलपीजी गैस सिलेण्डर पर दिया चुपके से तगड़ा झटकाजयपुर में रात 8 बजते ही घर में आ जाते है 40-50 सांप, कमरे में दुबक जाता है परिवार

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: शिवसेना के सारे MLA-Minister हुए बागी, उद्धव के साथ बचे सिर्फ MLC-Minister और बेटा आदित्य ठाकरेMaharashtra Political Crisis: महाराष्ट्र में क्या बन रहे हैं नए सियासी समीकरण? बागी एकनाथ शिंदे ने राज ठाकरे से की फोन पर बातचीतPunjab Budget LIVE Updates: वित्तमंत्री हरपाल चीमा ने कहा- सभी जिलों में बनाए जाएंगे साइबर अपराध क्राइम कंट्रोल रूममनी लॉन्ड्रिंग मामले में सत्येंद्र जैन को बड़ी राहत, कोर्ट ने हिरासत अवधि बढ़ाने से किया इनकार, जानिए क्या बताई वजहRajasthan Invest Summit : कांग्रेस शासित राजस्थान में 1.68 लाख करोड़ के निवेश की तैयारी में Rahul Gandhi के 'Double A'Ram Nath Kovind Vrindavan Visit : राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद वृंदावन पहुंचे, सीएम योगी ने किया स्वागत, जानें पूरा कार्यक्रमExclusive Interview: राष्ट्रपति उम्मीदवार यशवंत सिन्हा को किस आधार पर जीत की उम्मीद और क्या बोले आदिवासी महिला के खिलाफ उम्मीदवारी परकभी सीएम नीतीश कुमार के खास माने जाने वाले RCP सिंह ने क्यों कहा- 'मैं किसी का हनुमान नहीं'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.