scriptThe police kept rotating the former president in the city? | किस कारण से पुलिस घुमाते रहे पूर्व अध्यक्ष क़ो शहर में ? | Patrika News

किस कारण से पुलिस घुमाते रहे पूर्व अध्यक्ष क़ो शहर में ?

- पुलिस पर लगाया आरोपी, बेवजह दो घंटे तक कार में घुमाते रहे

रायपुर

Published: April 07, 2022 12:05:10 pm

रायपुर @ कैशालपुरी महाराजबंद मार्ग (Kaisalpuri Maharajband Marg) की मकानों को तोड़ने के मामले में वित्त आयोग के पूर्व अध्यक्ष वीरेंद्र पांडेय (Former Chairman of Finance Commission Virendra Pandey) ने रायपुर पुलिस (Raipur Police) पर गंभीर आरोप लगाए हैं। मीडिया से चर्चा करते हुए उन्होंने बताया कि तालाब सड़क के किनारे बने तीन मकानों को मंगलवार शाम को नगर निगम और राजस्व विभाग (Municipal Corporation and Revenue Department) के अधिकारी भारी भरकम अमले के साथ तोडऩे पहुंचे।
किस कारण से पुलिस घुमाते रहे पूर्व अध्यक्ष क़ो शहर में ?
The police kept rotating the former president in the city?
वित्त आयोग के पूर्व अध्यक्ष वीरेंद्र पांडेय ने बताया, करीब 5:30 बजे निगम की टीम वहां पहुंची इसकी सूचना मिलने पर वे मौके पर पहुंचे और अमले से रात के बजाए अगले दिन कार्रवाई की मांग को लेकर मकान के दरवाजे पर बैठ गए। इस दौरान निगम अधिकारियों और उनके बीच बहस हुई। जिसके बाद पुलिस ने मुझे पकड़ कर कार में बिठाया और करीब दो घंटे तक अपराधी की तरह बे वजह कार में महादेवघाट, तेलीबांधा, पुरानीबस्ती(Mahadevghat, Telibandha, Purani Basti) सहित शहरभर में घुमाते रहे।

असल में मकान मालिक जमीन को निजी बता कर हाईकोर्ट की सुनवाई तक कार्रवाई रोकने की मांग कर रहे थे। इसके बाद भी रात को जब दो मकान को तोड़ दिया गया और तीसरे मकान पर कार्रवाई चल रही थी।इस बीच मकान मालिकों ने हाईकोर्ट में अरजेंट हियरिंग (urgent hearing in the High Court.) के लिए याचिका लगाई जिसे कोर्ट ने स्वीकार कर लिया। साढ़े नौ बजे कोर्ट ने मकान मालिकों को राहत देते हुए 7 अप्रैल को होने वाली अगली सुनवाई तक कार्रवाई पर रोक लगा दी। लेकिन इस बीच निगम की टीम अपना काम कर चुकी थी।
किस कारण से पुलिस घुमाते रहे पूर्व अध्यक्ष क़ो शहर में ?
IMAGE CREDIT: Dinesh Yadu @ Patrika Raipur
यह भी पढ़ें - बिरगांव में पानी बांट रहा बीमारी, लोगो को नहीं मिल रहा साफ पेयजल
यह भी पढ़ें - विपक्ष के हंगामे के बीच महापौर ने 191 करोड़ 57 लाख का बजट किया पेश
यह भी पढ़ें - मां चंडिका को इष्ट देवी के रूप में पूजते थे राजा मोरध्वज
यह भी पढ़ें - कहा जाना चाहते है : जमीन में लेटकर विद्युत संविदा कर्मी

पीड़ित ने ये कहा
पीड़ित वीणा साहू, अविनाश साहू कहा कि उनकी जमीन लीगल है जिसे लेकर वह 2016 से लगातार केश लड़ रहे है। उनका आरोप है की किसी बड़े नेता के इशारे पर कार्यवाही हो रही है। उनके अवैध कब्जे को बचाने के लिए हमारे मकान को निशाना बनाया जा रहा है और दबाव में कार्यवाही कराई जा रही है। परिवार भगवान की संगमरमर की मूर्तियां बनाने का काम करता है। कार्यवाही के दौरान भगवान की मूर्तियों को कचरे की तरह सड़क पर फेंक दिया गया। घर मे बच्चे, बुजुर्ग, और महिलाएं सभी है। पूरा परिवार भूखे प्यासे रात भर सड़क पर सोने को मजबूर है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Veer Mahan जिसनें WWE में मचा दिया है कोहराम, क्या बनेंगे भारत के तीसरे WWE चैंपियनName Astrology: इन नाम वाले लोगों के जीवन में अचानक से धनवान बनने का होता है योगफटाफट बनवा लीजिए घर, कम हो गए सरिया के दाम, जानिए बिल्डिंग मटेरियल के नए रेटबुध जल्द वृषभ राशि में होंगे मार्गी, इन 4 राशियों के लिए बेहद शुभ समय, बनेगा हर कामबेहद शार्प माइंड होते हैं इन 4 राशियों के लोग, बुध और शनि देव की रहती है इन पर कृपाज्योतिष: रूठे हुए भाग्य का फिर से पाना है साथ तो करें ये 3 आसन से कामराजस्थान में देर रात उत्पात मचा सकता है अंधड़, ओलावृष्टि की भी संभावनाशादी के 3 दिन बाद तक दूल्हा-दुल्हन नहीं जा सकते टॉयलेट! वजह जानकर हैरान हो जाएंगे आप

बड़ी खबरें

जम्मू कश्मीरः बारामूला में जैश-ए-मोहम्मद के तीन पाकिस्तानी आतंकी ढेर, एक पुलिसकर्मी शहीदDelhi News Live Updates: दिल्‍ली में फैक्‍ट्री से 21 बाल मजदूर छुड़ाए गए, आरोपी फैक्ट्री मालिक की 6 फैक्ट्रियां सीलसुप्रीम कोर्ट में पूजा स्थल कानून के खिलाफ दायर की गई याचिका, संवैधानिक वैधता को चुनौतीTexas Shooting: अमरीकी राष्ट्रपति ने टेक्सास फायरिंग की घटना को बताया नरसंहार, बोले- दर्द को एक्शन में बदलने का वक्तजातीय जनगणना सहित कई मुद्दों को लेकर आज भारत बंद, जानिए कहां रहेगा इसका ज्यादा असरपंजाब CM Bhagwant Mann का एक और बड़ा फैसला, सरकारी नौकरियों के लिए पंजाबी भाषा है जरूरीकपिल सिब्बल समाजवादी पार्टी के टिकट से जाएंगे राज्यसभा, बताई कांग्रेस छोड़ने की वजहशिवसेना नेता यशवंत जाधव की बढ़ी मुश्किलें, ED ने जारी किया समन
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.