कैंसर से जूझ रही शिक्षिका ने युवा महोत्सव में हारमोनियम व सुरों से बांटी खुशियां

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में 12 से 14 जनवरी 2020 तक साइंस कालेज मैदान में आयोजित राज्यस्तरीय युवा महोत्सव कई मायनों में उल्लेखनीय रहा। राज्यभर से आए हजारों कलाकारों ने जहां संस्कृति की छटा बिखेरी वहीं कैंसर से जूझ रही एक 40 वर्षीय शिक्षिका ने हारमोनियम पर तीन सप्तक की बेहतरीन प्रस्तुति देकर विपरीत परिस्थितियों में भी सकारात्मक सोच के साथ डटे रहने और जिंदगी की खुशियां बांटते रहने की सीख दी।

रायपुर. बलौदाबाजार-भाटापारा जिले के हिरमी निवासी और पेशे से शिक्षक आम्रपाली बनर्जी कैंसर पीडि़त होने के बावजूद हिम्मत नहीं हारी और रायपुर के साइंस कॉलेज मैदान में आयोजित राÓय स्तरीय युवा महोत्सव में हारमोनियम प्रतियोगिता में तृतीय पुरस्कार प्राप्त किया। बनर्जी ने प्रदेश में युवा महोत्सव के आयोजन के लिए राÓय सरकार के प्रति आभार व्यक्त करते हुए कहा कि प्रतियोगिता के लिए उम्र मायने नहीं रखती है। उन्होंने 40 वर्ष आयु वर्ग के लिए हारमोनियम प्रतियोगिता में भाग लिया और विजयी हुईं।

तकलीफ के बावजूद दी प्रस्तुति
आम्रपाली ने बताया कि कैंसर के साथ-साथ उन्हें कमर में भी काफी तकलीफ है। हारमोनियम रियाज के लिए ठीक से बैठ नहीं पाती हैं। उसके बावजूद आम्रपाली ने हिम्मत नहीं हारी। उन्होंने युवा महोत्सव के इस आयोजन में भाग लिया। हारमोनिययम प्रतियोगिता में उन्होंने तीनों सप्तक में छोटे-छोटे तीन टुकड़े प्रस्तुत किए। उनकी रचना को जजों ने सराहा और वे पुरस्कार भी जीती।


बढ़ा आत्मविश्वास
आम्रपाली बनर्जी ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को युवाओं की प्रतिभा को निखारने उन्हें मंच प्रदान करने के लिए आयोजित युवा महोत्सव के लिए धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि ऐसे आयोजन से युवाओं को अपने हुनर को प्रदर्शित करने का अवसर मिलता है। वहीं प्रतियोगिता में हिस्सा लेने से आगे बढऩे के लिए आत्मविश्वास पैदा होता है। इस तरह के आयोजन होते रहना चाहिए।

Dhal Singh Desk
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned