scriptthere will be rain of Teej-festivals from Hareli to Sawan-Bhado | 28 को हरेली से सावन-भादो में होगी तीज-त्योहारों की बरसात | Patrika News

28 को हरेली से सावन-भादो में होगी तीज-त्योहारों की बरसात

उत्सवों की धूम: बिखरेगी स्थानीय पर्वों की छटा

रायपुर

Published: July 24, 2022 12:22:02 am

रायपुर. वैसे तो अभी पानी की वर्षा हो रही है, लेकिन छत्तीसगढ़ के मामले में पर्वों की बरसात कहना भी गलत नहीं होगा। ऐसा इसलिए क्योंकि प्रदेश में सावन और भादों के दौरान स्थानीय तीज-त्योहारों की भरमार रहती है। इसकी शुरुआत 28 जुलाई को हरेली से होने जा रही है।
महामाया मंदिर के पुजारी पं. मनोज शुक्ला बताते हैं कि छत्तीसगढ़ के ज्यादातर लोग खेती-किसानी से जुड़े हैं। ज्यादातर स्थानीय पर्व भी इसी पर आधारित हैं। जैसे हरेली में खेत के साथ कृषि उपकरणों की पूजा का विधान है। सावन-भादो में ज्यादातर त्योहार पडऩे की वजह ये है कि इस दौरान किसान खेती कार्यों में व्यस्त रहते हैं। ऐसे में अलग-अलग पर्वों के जरिए वे कृषि और इससे जुड़े उपरकरणों के प्रति सम्मान व्यक्त करते हैं। एक अन्य कारण यह भी है कि चातुर्मास काल में लोग इधर-उधर जाने के बजाय अपने घरों में ही रहें। इसके चलते भी वर्षाकाल में सबसे ज्यादा तीज-त्योहार पड़ते हैं।
स्थानीय पर्व और उनके महत्व, आइए जानते हैं...
हरेली- 28 जुलाई
मुख्य रूप से यह पर्व किसान परिवारों में मनाया जाता है। इस दिन कृषि औजारों की पूजा करने के साथ घरों में गुरहा चीला बनाने की भी परंपरा है। ये चीला खेत को अर्पित करने के बाद घर और पास-पड़ोस के लोगों मे मिल बांटकर खाया जाता है।
बहुरा चौथ- 15 अगस्त
ये पर्व सभी ममतामयी माताओं को समर्पित है। वैसे तो इस दिन श्रीकृष्ण और गो पूजा की विधान है, लेकिन छत्तीसगढ़ में इस दिन माताएं साथ मिलकर उस गाय की कथा सुनती-सुनाती हैं जिसने अपने बच्चे की जान बचाने के लिए खुद को शेर का चारा बना दिया था।
खमरछठ- 17 अगस्त
संतान की लंबी उम्र के लिए माताएं व्रत रखती हैं। घरों और मोहल्लों में इस दिन सगरी (मिट्टी का कुंआ) बनाई जाती है। संतान की लंबी उम्र के लिए माताएं इसमें जल भरती हैं। बच्चों को कपड़ों की पोटली (पोता) मारने का भी विधान है। ये छत्तीसगढ़ के बड़े पर्वों में से एक है।
पोरा- 27 अगस्त
28 को हरेली से सावन-भादो में होगी तीज-त्योहारों की बरसात
28 को हरेली से सावन-भादो में होगी तीज-त्योहारों की बरसात
वैसे तो यह खेती-किसानी को समर्पित पर्व है, लेकिन ग्रामीण बच्चों को पूरे साल इस दिन का इंतजार रहता है। इस दिन नंदिया बइला (मिट्टी के बैल) और चुक्की-पोरा (मिट्टी के बर्तन) की पूजा की जाती है। फिर लडक़े नंदिया बइला दौड़ाते हैं और लड़कियां चुक्की-पोरा से खेलती हैं।
तीजा-30 अगस्त
छत्तीसगढ़ की महिलाओं को पूरे साल किसी दिन का इंतजार रहता है तो वो यही है। शादीशुदा बेटियां इस दिन अपने मायके आती हैं। रंग-बिरंगी साडिय़ों का लेन-देन भी खूब होता है। ये पर्व उन बेटियों के लिए सबसे ज्यादा खुशी लेकर आता है जो ससुराल दूर होने की वजह से सालभर मायके नहीं जा पाती हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

आज से वैक्सीनेशन सेंटर में उपलब्ध होंगे कॉर्बेवैक्स टीके, जानिए दूसरी डोज के कितने महीने बाद लगेगाGujarat News: जामनगर के होटल में लगी भयानक आग, स्टाफ सहित 27 लोग थे मौजूद, सभी सुरक्षितत्रिपुरा कांग्रेस विधायक सुदीप रॉय बर्मन पर जानलेवा हमला, गंभीर रूप से हुए घायलबांदा में यमुना नदी में डूबी नाव, 20 के डूबने की आशंकाSCO समिट में पीएम मोदी के साथ पाकिस्तान के प्रधानमंत्री की हो सकती है बैठकCM अरविंद केजरीवाल ने किया सवाल- 'मनरेगा, किसान, जवान… किसी के लिए पैसा नहीं, कहां गया केंद्र सरकार का धन'बिहारः 16 अगस्त को महागठबंधन सरकार का कैबिनेट विस्तार, 24 को फ्लोर टेस्ट, सुशील मोदी के दावे को नीतीश ने बताया बोगसझारखंड BJP ने बिहार के नए उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को गिफ्ट में भेजा पेन, कहा - '10 लाख नौकरी देने वाली फाइल पर इससे करें हस्ताक्षर'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.