मुख्य सचिव से पहचान पत्र मांगने पर TI को किया सस्पेंड, CM भूपेश ने बताई ये वजह

मुख्य सचिव से पहचान पत्र मांगने पर TI को किया सस्पेंड, CM भूपेश ने बताई ये वजह

Chandu Nirmalkar | Publish: Jun, 08 2019 04:06:10 PM (IST) | Updated: Jun, 08 2019 06:08:55 PM (IST) Raipur, Raipur, Chhattisgarh, India

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के कोरबा जिले (Korba district) में मुख्य सचिव (Chief Secretary) से पहचान पत्र मांगने पर थानेदार (TI) को निलंबित किए जाने के मामले में आज सीएम भूपेश बघेल (Chhattisgarh Chief Minister Bhupesh Baghel) का बयान सामने आया है।

रायपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के कोरबा जिले (Korba district) में मुख्य सचिव (Chief Secretary) से पहचान पत्र मांगने पर थानेदार (TI) को निलंबित किए जाने के मामले में आज सीएम भूपेश बघेल ( Chhattisgarh Chief Minister Bhupesh Baghel ) का बयान सामने आया है।

सीएम ने मुख्य सचिव सुनील कुजूर का बचाव करते हुए कहा कि मैं पूरे समय साथ था, जैसा सोशल मीडिया (Social Media ) में प्रचारित किया जा रहा है वैसा मामला नहीं है। हां थानेदार की एरोगेंसी (Aurogenic) की वजह से निलंबित किए जाने की कार्रवाई की गई है।

Read Also: भूपेश का पहला विदेश दौरा रद्द, उद्योग मंत्री लखमा और मुख्य सचिव जायेंगे कनाडा

थानेदार का कसूर सिर्फ इतना था..

सीएम के कार्यक्रम में ईमानदारी से ड्यूटी करना कोरबा के थानेदार को महंगा पड़ गया। अपनी ड्यूटी निभाते समय थानेदार रघुनंदन प्रसाद शर्मा का कसूर सिर्फ इतना था कि उसने प्रदेश (Chhattisgarh State) के मुख्य सचिव सुनील कुजूर को नहीं पहचान पाया। इस पर टीआई ने उसने पहचान पत्र मांगा लिया। इसके बाद मुख्य सचिव नाराज हो गए और उन्होंने इसकी शिकायत आईजी आई जी प्रदीप गुप्ता से की। जिसके बाद टीआई को तुरंत सस्पेंड कर दिया।

Read Also: अलीगढ़: ढ़ाई साल की बच्ची की हत्या पर देश में गुस्सा, सीएम भूपेश ने ट्वीट कर कड़ी कार्रवाई की मांग की

यह मामला कोरबा के पाली ब्लॉक के ग्राम केराझरिया का है। जहां बीते मंगलवार को छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल की सभा थी। सभा के प्रवेश द्वार में दर्री के थानेदार रघुनंदन प्रसाद शर्मा की ड्यूटी लगाई गई थी। सीएम की सुरक्षा को देखते हुए वहां आने-जाने वाले हर अधिकारी और व्यक्ति के आई कार्ड की जांच की जा रही थी।

सीएम बोले- थानेदार की एरोगेंसी की वजह से की गई कार्रवाई
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज मीडिया से चर्चा करने के दौरान कहा कि थानेदार की एरोगेंसी (TI Suspended) की वजह से कार्रवाई की गई है। चीफ सेक्रेटरी सुनील कुजूर के साथ एसीएस (SP) आरपी मंडल भी मौजूद थे, उन्होंने अपना परिचय भी करवाया, जिसके बाद भी थानेदार अड़े रहे कि मैं पहचान पत्र लूंगा। फिलहाल मीडिया में जैसा प्रचारित किया जा रहा है ये वैसा मामला नहीं है।

Video By- दिनेश यदु

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned