पूरे शहर को नहीं, जिन इलाकों में कोरोना का प्रकोप ज्यादा सिर्फ उन्हीं को किया जाएगा लॉक

कलेक्टर डॉ.एस भारतीदासन ने बताया कि लॉकडाउन के तीन दिन पहले आम जानता और व्यापारियों को प्रशासन पहले से सूचना देकर ही आदेश जारी करेगी।

By: Bhupesh Tripathi

Updated: 20 Jul 2020, 12:48 AM IST

रायपुर. रायपुर जिले में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण को लेकर प्रशासन लॉकडाउन की तैयारी कर रहा है। अनलॉक के बाद लगातार बढ़ रहे संक्रमितों की संख्या को देखते हुए प्रशासन यह कदम उठा सकता है। इस संबंध में कलेक्टर डॉ.एस भारतीदासन ने व्यापारिक संगठनों की बैठक लेकर फैसला लिया है। कलेक्टर डॉ.एस भारतीदासन ने बताया कि लॉकडाउन के तीन दिन पहले आम जानता और व्यापारियों को प्रशासन पहले से सूचना देकर ही आदेश जारी करेगी। इसबार लॉकडाउन एक साथ पूरे शहर में लागू नहीं होगा। शहर के जिन इलाकों में कोरोना का प्रकोप ज्यादा रहेगा, उनमें धारा १४४ लागू करके प्रतिबंधात्मक कार्रवाई की जाएगी।

कलेक्टर को पहले से ही अधिकार
महामारी अधिनियम के तहत जिला कलेक्टर को पहले से यह अधिकार प्राप्त है कि वह पूरे जिले या किसी भी इलाके में कफ्र्यू लगा सकते हैं। अधिकरियों का कहना है कि लॉकडाउन में एक बड़े क्षेत्र या विधानसभा को सील किया जा सकेगा।

यह रहेंगे चालू
पेट्रोल पंप, अस्पताल, क्लीनिक, पशु चिकित्सा सेवाएं, दवाई दुकान, दूध और इससे संबंधित उत्पाद, सब्जी दुकान पहले की तरह नियत समयानुसार खुले रहेंगे। इन्हें खुला रखने के लिए कोई अतिरिक्त समय नहीं दिया जाएगा। कृषि उपज मंडी पूर्व की तरह कार्य करती रहेगी। कफ्र्यू वाले क्षेत्रों में केवल वाणिज्यिक परिवहन की अनुमति होगी। यह अनुमति केवल रात्रि में होगी। मास्क पहनना और सोशल डिस्टेसिंग का पालन करना हर परिस्थिति में अनिवार्य होगा, जो इसका पालन नहीं करेगा उस पर जुर्माना किया जाए।

Corona virus
Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned