ऑनलाइन सामानों को छूट और दुकानों में बंदिश बर्दाश्त नहीं, व्यापारी संगठन एकजुट

20 अप्रैल के बाद ई-कॉमर्स कंपनियों को इलेक्ट्रॉनिक्स, टीवी, मोबाइल अन्य सामान बेचने की खुली छूट और दुकानों में बंदिश के फैसले का कन्फेडरशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने कड़ा विरोध जताया है।

By: Ashish Gupta

Published: 18 Apr 2020, 06:56 PM IST

रायपुर. 20 अप्रैल के बाद ई-कॉमर्स कंपनियों को इलेक्ट्रॉनिक्स, टीवी, मोबाइल अन्य सामान बेचने की खुली छूट और दुकानों में बंदिश के फैसले का कन्फेडरशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने कड़ा विरोध जताया है। कैट ने चेतावनी दी है कि यदि केंद्र सरकार ने व्यापारी हित में निर्णय पर पुनर्विचार नहीं किया तो असहयोग आंदोलन करने पर मजबूर होंगे।

कैट की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अमर परवानी, प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष विक्रम सिंहदेव ने बताया कि सरकार ने 20 अप्रैल के बाद ऑनलाइन और ई-कॉमर्स कंपनियों को अपने उत्पाद बेचने की छूट दे दी है, वहीं व्यापारियों को सिर्फ आवश्यक वस्तुओं की दुकान खोलने की छूट दी है। ई-कॉमर्स कंपनी या इलेक्ट्रॉनिक सामान, मोबाइल यह सब भेज सकती है। ई-कॉमर्स को खुली छूट देना देश के 7 करोड़ और राज्य 6 लाख कारोबारियों के साथ अन्याय हैं।

छत्तीसगढ़ चैंबर ऑफ कॉमर्स ने भी सरकार के इस फैसले का विरोध किया है। चैंबर के जितेंद्र बरलोटा, प्रवक्ता ललिज जैसिंघ ने बताया कि वर्तमान परिस्थितियों में सरकार के द्वारा ऑनलाइन व्यापार के पक्ष में लिया गया निर्णय गलत है। बड़े दुर्भाग्य का विषय है विगत दिनों ऑनलाइन पिज़्ज़ा ब्वॉय से देश की राजधानी दिल्ली में 70 से अधिक घरों में पिज्जा सप्लाई किया जिससे कोरोना पॉजिटिव के नए केस सामने आने की आशंका संभावना है जो कि एक घातक कार्य मानवता के लिए साबित हुआ है।

Show More
Ashish Gupta Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned