भाठागांव चौक पर मिट्टी का ढेर, लग रहा आधे-आधे घंटे वाहनों का जाम

Deepak Sahu

Publish: Feb, 15 2018 12:49:26 PM (IST)

Raipur, Chhattisgarh, India
भाठागांव चौक पर मिट्टी का ढेर, लग रहा आधे-आधे घंटे वाहनों का जाम

भाठागांव चौक पर मिट्टी का ढेर, लग रहा आधे-आधे घंटे वाहनों का ठेकेदार ने रिंग रोड की मुख्य सडक़ के दोनों तरफ से मिट्टी का ढेर तो हटाया, लेकिन मोटी परत

रायपुर . भाठागांव से चंगोराभाठा के बीच सर्विस रोड का चौड़ीकरण बाइक सवारों के लिए जान-जोखिम में डालने से कम नहीं है। पत्रिका में लगातार खबरें छपने पर ठेकेदार ने रिंग रोड की मुख्य सडक़ के दोनों तरफ से मिट्टी का ढेर तो हटाया, लेकिन मोटी परत सडक़ पर ही छोड़ दी है। जो बेमौसम बारिश होने पर जानलेबा साबित हो रही है।

भारी-भरकम ट्रक हाईस्पीड में दौड़ते रहते हैं, उससे बचने के लिए जैसे ही बाइक सवार किनारे होता है तो गीली मिट्टी की परत में गाड़ी इतनी तेजी से फिसलती है कि सम्हलना मुश्किल हो जाता है। निर्माणाधीन रोड पर आने-जाने के लिए और कोई रास्ता भी नहीं है।
भारी ट्रैफिक वाली रिंग रोड पर दोनों तरफ की सर्विस रोड के चौड़ीकरण के लिए खुदाई कराने से पहले पीडब्ल्यूडी के इंजीनियरों ने हादसे के अंदेशे को नजरअंदाज कर दिया। जब दोनों तरफ से पूरा ट्रैफिक बीच सडक़ पर पहुंच गया तो निर्माण का हवाला देकर पल्ला झाडऩे की कोशिशें की जा रही हैं। ठेकेदार के कार्यों की मैदानी स्तर पर मॉनिटरिंग भी नहीं की जा रही है। पिछले दिनों से हो ही हल्की बारिश से भाठागांव से चंगोराभाठा चौक की दूरी पार करके सुरक्षित बचने से लंबी सांसें बाइक सवार लेते हैं।

 

मिट्टी सूखी तो भरेगा धूल का गुबार

गीली मिट्टी की परत को साफ नहीं किया गया तो सूखने पर वाहनों चालकों के आंख-मुंह में धूल का गुबार भरेगा। क्योंकि मिट्टी के ढेर को हटाने की ही खानापूर्ति की गई है। इसलिए सडक़ के किनारे में बाइक चलाने में भारी दिक्कत का सामना करना पड़ता है।

आसपास के लोगों ने की नारेबाजी

इस रिंग रोड के दोनों तरफ घनी आबादी होने से अधिकांश लोग घरों से बाइक लेकर निकलते हैं। हादसे होने से नाराज लोगों ने कांग्रेस व्यापार प्रकोष्ठ के अध्यक्ष कन्हैया लाल अग्रवाल के नेतृत्व में मंगलवार को सैकड़ों लोग निर्माण स्थल पर पहुंचकर विरोध प्रदर्शन करते हुए सडक़ साफ कराने के लिए नारेबाजी की। साथ हीचेतावनी दी है कि यदि दो दिन के अंदर बीच सडक़ के दोनों तरफ के किनारों से मिट्टी की मोटी परत नहीं हटाई गई तो लोग उग्र आंदोलन करने के लिए बाध्य
हो जाएंगे।

आधा किमी तक जगह-जगह खतरे

रिंग रोड क्रमांक के इन दोनों प्रमुख चौक के दायरे में आधा किमी सडक़ पर किनारे चलना खतरे से कम नहीं है। भांठागांव चौक से थोड़ा से आगे बढ़ते ही 6 से 7 फीट चौड़ी में मिट्टी की मोटी परत गीली हो चुकी है। यदि थोड़ा बाइक की स्पीड तेज हुई और साइड लगने की कोशिश करते हुए धड़ाम से बाइक फिसल जाती है। सोमवार और मंगलवार को कई बाइक सवार घायल होने से बाल- बाल बचे। एेसी ही स्थिति चंगोराभाठा चौक से जाने के दौरान भी हो रहा है।

 

निर्माण पीडब्ल्यूडी ब्रिज विभाग करा रहा है। पहले एक तरफ की सर्विस रोड का निर्माण पूरा कराना था, लेकिन एेसा नहीं कराया गया। इसलिए लोगों की परेशानी बढ़ी। विभाग के इंजीनियरों को सख्ती के साथ सडक़ से मिट्टी साफ करवानी चाहिए। लोगों की सुविधा के लिए नगर निगम सहयोग करने के लिए तैयार है।
प्रमोद दुबे, महापौर

ठेकेदार को मुख्य सडक़ से मिट्टी साफ करने का आदेश दिया है, यदि इस पर पालन नहीं किया गया है तो तत्काल उसकी सफाई कराई जाएगी।
एसव्ही पडेगांवकर, ईई ब्रिज विभाग

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned