कांग्रेसियों के बवाल के बाद खमतराई इंस्पेक्टर का तबादला, चार दूसरे TI भी बदले गए

- कांग्रेसियों के बवाल के बाद इंस्पेक्टर का तबादला
- रायपुर के दो टीआई और एक एसआई लाइन अटैच

By: Ashish Gupta

Published: 10 Mar 2021, 07:39 PM IST

रायपुर. कांग्रेसियों के बवाल के बाद खमतराई इंस्पेक्टर का तबादला कर दिया गया। इसके अलावा चार अन्य इंस्पेक्टर और दो एसआई का भी ट्रांसफर किया गया है। एसएसपी अजय यादव ने खमतराई टीआई संजय पुंढीर और कबीर नगर टीआई एलपी जायसवाल को पुलिस लाइन अटैच कर दिया है। इसके अलावा तेलीबांधा टीआई विनित दुबे को खमतराई और कबीर नगर में गिरीश तिवारी की पोस्टिंग की है। तेलीबांधा थाने में विनित के स्थान पर पुलिस लाइन से सोनल ग्वाला को पदस्थ किया गया। इसी तरह सिलियारी चौकी प्रभारी एसआई दीनदयाल कोसले को पुलिस लाइन भेजा गया। उनके स्थान पर टिकरापारा से अरविंद कुमार तेली को पदस्थ किया गया है।

यह भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ में बाहर से आने वाले फैला रहे कोरोना, स्वास्थ्य विभाग ने जारी किया अलर्ट

मर्डर के बाद हुआ था बवाल
खमतराई में पिछले दिनों पूर्व कांग्रेस पार्षद राधेश्याम विभाग के भतीजे की तीन युवकों ने हत्या कर दी थी। इसके विरोध में कांग्रेसियों ने थाने का घेराव कर प्रदर्शन किया था। और थाना प्रभारी को हटाने की मांग की थी। इसके अलावा उरकुरा में शराब का अवैध भंडारण पाया गया। बताया जाता है कि इसी के चलते टीआई पुंढरी को हटा दिया गया। इसी तरह कबीर नगर इलाके में शराब बनाने वाले पकड़े गए थे। इसके बाद से डीजीपी नाराज चल रहे थे। और अतंत: कबीर नगर टीआई को भी हटाया गया।

यह भी पढ़ें: कोरोना वैक्सीन प्राइवेट अस्पतालों में तीन दिन के लिए बंद करने का फरमान जारी

इन पर मेहरबानी क्यों?
शराब भंडारण का खुलासा होने पर आला अफसरों ने कई थाना प्रभारियों को लाइन अटैच कर दिया है, लेकिन गुढिय़ारी इलाके में शराब का अवैध भंडारण मिलने के बाद भी अब तक कार्रवाई नहीं हुई है। गोगांव में आबकारी विभाग ने छापा मारकर 77 पेटी दूसरे राज्य का शराब पकड़ा था। इस मामले में अब तक आला अफसरों ने संबंधित थानेदार से सवाल-जवाब भी नहीं किया है। इसको लेकर शहर में पुलिस मुख्यालय के अफसरों को लेकर तरह-तरह की चर्चा है।

Show More
Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned