तेंदुए की खाल बेचते दो युवक गिरफ्तार, मास्टरमाइंड फरार

कोरिया के जंगल से लाई थी खाल, माना पुलिस ने धरदबोचा

By: Bhupesh Tripathi

Updated: 29 Jul 2021, 10:10 PM IST

रायपुर . कोरिया के जंगल के तेंदुए का खाल रायपुर में बेचने के फिराक में घूम रहे दो युवकों को पुलिस ने धरदबोचा। आरोपियों के पास से तेंदुए का खाल बरामद हुआ है। उसके खिलाफ वन्य प्राणी अधिनियम के तहत अपराध दर्ज किया गया है। मामले में शामिल एक मुख्य तस्कर फरार है। पुलिस उसकी तलाश में लगी है।

पुलिस के मुताबिक माना पुलिस को मुखबिर के जरिए तेंदुए की खाल की तस्करी की सूचना मिली। इसके बाद पुलिस ने रायपुर आने वाले सभी प्रमुख मार्गों की नाकेबंदी कर दी। इस दौरान टेमरी मोड़ के पास दोपहिया सीजी 04 एमएफ 6081 सवार दो युवक संदिग्ध रूप से किसी का इंतजार कर रहे थे। पुलिस को देखकर दोनों भागने लगे। पुलिस ने उन्हें दौड़ाकर पकड़ा। उनकी तलाशी ली गई, तो बैग में छुपाकर रखे तेंदुए का खाल बरामद हुआ। पुलिस ने दोपहिया चालक निखिल कुमार सिंह और मनीष को गिरफ्तार कर लिया। उनके खिलाफ वन्य प्राणी अधिनियम के तहत अपराध दर्ज किया गया है।

READ MORE : बड़ी राहत : 3 जिलों में मिली 65 प्रतिशत से अधिक हर्ड इम्युनिटी, मगर अभी भी नियम से चलना होगा

10 लाख में सौदा
पूछताछ में आरोपियों ने खुलासा किया कि तेंदुए की खाल उन्हें कोरिया के विक्रम उर्फ मनोज कुमार कुशवाहा ने 5 लाख रुपए में दिया था। और इस खाल को रायपुर में 10 लाख रुपए में बेचने का सौदा हुआ था। लेकिन दोनों के पकड़े जाने के बाद खाल खरीदने वाला भी फरार हो गया।

खाल तस्करी का मास्टरमाइंड कोरिया के विक्रम उर्फ मनोज कुमार कुशवाहा को माना जा रहा है। दोनों तस्करों के पकड़े जाने की जानकारी होते ही विक्रम भी गायब है। जंगल से खाल लाने का काम विक्रम करता है। इसके बाद उस खाल को खपाने की जिम्मेदारी पकड़े गए दोनों आरोपियों की थी। पुलिस ने विक्रम की तलाश शुरू कर दी है।

READ MORE : निलंबित एडीजी जीपी सिंह के खिलाफ ईडी जल्द दर्ज करेगी एफआईआर

Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned