केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन का छत्तीसगढ़ के लोगों को बदकिस्मत कहना गलत, यह प्रदेश का भी अपमान

- हर्षवर्धन के बयान पर कांग्रेस का पलटवार
- कोवैक्सीन को लेकर विवाद गहराया

By: Ashish Gupta

Published: 17 Feb 2021, 11:06 AM IST

रायपुर. कोवैक्सीन को लेकर विवाद दिन-व-दिन गहराता चला जा रहा है। राज्य सरकार कोवैक्सीन ट्रायल के तीसरे चरण के नतीजों के बाद ही इस्तेमाल पर लिए गए अपने निर्णय पर कायम है। मगर, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन लगातार हवलावर हैं। उनका नया बयान कि कोवैक्सीन का इस्तेमाल न होना छत्तीसगढ़ के लोगों की बदकिस्मती है, इस पर छत्तीसगढ़ कांग्रेस ने जमकर पलटवार किया है।

चलती ट्रेन में फिसला महिला का पैर, सब इंस्पेक्टर ने जान पर खेलकर ऐसे बचाई जान

प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि छत्तीसगढ़ और छत्तीसगढ़ के लोग बदकिस्मत नहीं है। हर्षवर्धन के शब्द केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री पद की गरिमा के अनुरूप नहीं है। बदकिस्मत शब्द का इस्तेमाल करना, गलत है। यह छत्तीसगढ़ और छत्तीसगढ़ वासियों का अपमान है।

त्रिवेदी ने कहा है कि छत्तीसगढ़ सरकार ने बिना समुचित क्लिनिकल ट्रायल पूरा हुए कोवैक्सीन के इस्तेमाल की अनुमति नदीं दी है, जो स्वास्थ्य मानकों के अनुरूप है। मोदी सरकार बिना क्लिनिकल ट्रायल पूरा हुए इनका इस्तेमाल करनी की बात कह रही है, जो छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य कर्मियों और फ्रंट वारिर्यस के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ है।

ALERT: 15 फरवरी से फास्टैग अनिवार्य, नहीं लगवाया तो भरना होगा दोगुना टोल टैक्स

उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ के लोगों पर छत्तीसगढ़ महतारी का आशीर्वाद है, पुरखों का आशीर्वाद है। और छत्तीसगढ़ के लोगों के लिए हमेशा उनकी मेहनत उनका स्वाभिमान और उनका साहस सर्वोपरि रहा है। भाग्य पर पुरुषार्थी भरोसा नहीं करते।

Show More
Ashish Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned