लॉ संकाय के छात्रों की पढ़ाई कराना भूले रविवि के जिम्मेदार, निर्देश के बावजूद विभागाध्यक्ष नहीं दे रहे ध्यान

जब भी विभागाध्यक्ष या शिक्षकों को क्लास लगाने के लिए छात्रों द्वारा कहा जाता है, उन्हें फटकार लगा दी जाती है। छात्रों का कहना है कि अब तक एक भी क्लास नहीं लगी है। शिकायत करने पर विभागाध्यक्ष परीक्षा के दौरान देखने की धमकी दे रहे हैं।

By: Karunakant Chaubey

Published: 22 Nov 2020, 05:07 PM IST

रायपुर. कोरोना काल में छात्रों की पढ़ाई प्रभावित ना हो, इसलिए उच्च शिक्षा विभाग ने प्रदेश के विश्वविद्यालयों और महाविद्यालयों में ऑनलाइन क्लास लगाने के निर्देश दिए थे। क्लासों की मॉनीटरिंग विश्वविद्यालय प्रबंधन को करनी थी और इसकी रिपोर्ट रोजाना उच्च शिक्षा विभाग को भेजनी थी। विश्वविद्यालय के जिम्मेदार परिसर से ही क्लास संचालन का ब्योरा नहीं ले पा रहे हैं।

यह है पूरा मामला

पं. रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय के लॉ संकाय में निर्देश के बाजवूद क्लास नहीं लग रही है। एेसी शिकायत वहां के छात्रों ने पत्रिका और पं. रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय प्रबंधन को की है। छात्रों का कहना है कि ऑनलाइन पढ़ाई ना होने से उनका कोर्स पूरा नहीं हो रहा है।

नीट क्वालीफाई करने के बाद भी दाखिले से वंचित रह गई आठ आदिवासी छात्राएं

जब भी विभागाध्यक्ष या शिक्षकों को क्लास लगाने के लिए छात्रों द्वारा कहा जाता है, उन्हें फटकार लगा दी जाती है। छात्रों का कहना है कि अब तक एक भी क्लास नहीं लगी है। शिकायत करने पर विभागाध्यक्ष परीक्षा के दौरान देखने की धमकी दे रहे हैं।

सैकड़ों छात्रों का भविष्य अधर में

छात्रों ने बताया कि रविवि में बीएएलएलबी और एलएलम में लगभग १५० छात्र है। इन छात्रों का भविष्य अधर में लटका हुआ है। छात्रों का कहना है कि सिलेबस तय होने के बावजूद अब तक एक भी क्लास नहीं लगी है। क्लास नहीं लगने से कोर्स समझ नहीं आ रहा है। छात्रों की मांग पर रविवि प्रबंधन ने समस्या का समाधान करने और ऑनलाइन क्लास का संचालन नियमानुसार कराने की बात कही है।

ऑनलाइन पढ़ाई सिर्फ नाम की

उच्च शिक्षा विभाग ने प्रदेश के विश्वविद्यालय और महाविद्यालय प्रबंधन को ऑनलाइन क्लास लगाने का निर्देश दिया है। उच्च शिक्षा विभाग का यह निर्देश केवल कागजों तक ही सीमित रह गया है। जानकारों की मानें तो प्रदेश में ऑनलाइन क्लास के नाम पर सरकारी मजाक हो रहा है।

शिक्षक छात्र को वाट्सअप में असाइनमेंट डालकर खानापूर्ति करते है, लेकिन अवलोकन नहीं करते। ऑनलाइन क्लास में कितने छात्र बैठते है? इस बात की जानकारी उच्च शिक्षा विभाग के जिम्मेदारों को नहीं है। ऑनलाइन क्लास व्यवस्था निगरानी के अभाव में चौपट हो रही है।

हर संकाय में ऑनलाइन क्लास लगाने का निर्देश दिया गया है। जहां अव्यवस्था है, वहां व्यवस्था दुरुस्त कराई जाएगी। छात्रांे की शिकायत मिली है, उनकी समस्या का समाधान किया जाएगा।

-सुपर्णसेन गुप्ता, मीडिया प्रभारी पं. रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय

ये भी पढ़ें: सैनिक स्कूल में प्रवेश लेने आवेदन फार्म भरें 3 दिसम्बर तक, 10 जनवरी 2021 को प्रवेश परीक्षा

Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned