कड़ाके की ठण्ड से अब मिलेगी राहत ...

Deepak Sahu

Publish: Feb, 15 2018 02:46:35 PM (IST)

Raipur, Chhattisgarh, India
कड़ाके की ठण्ड से अब मिलेगी राहत ...

मौसम...चक्रवात पड़ा कमजोर, थमी बारिश छाए रहेंगे बादल, फिर घटेगी ठंड

मौसम...

चक्रवात पड़ा कमजोर, थमी बारिश छाए रहेंगे बादल, फिर घटेगी ठंड

रायपुर . पिछले तीन दिनों से शहर में हो रही बारिश बुधवार को थमी रही। मंगलवार-बुधवार की रात शहर में 11 मिमी बारिश हुई। बारिश की वजह से हवा में नमी बनी रही। हालांकि सुबह से देर शाम तक बारिश नहीं हुई। अधिकतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री कम दर्ज किया गया, जबकि न्यूनतम तापमान सामान्य रहा। बुधवार को शहर में अधिकतम तापमान 26.7 डिग्री और न्यूनतम तापमान 16.1 डिग्री दर्ज किया गया। आद्र्रता सुबह 94 फीसदी और शाम को 54 फीसदी रही।
मौसम वैज्ञानिक पीएल देवांगन के अनुसार दो दिन से मराठवाड़ा और उसके आसपास बने चक्रवात तथा पश्चिमी विक्षोभ की प्रेरित हवा से ऊपरी हवा का च्रकवाती घेरा कमजोर पड़ गया है। इसलिए बुधवार को बारिश नहीं हुई, हालांकि हल्के बादल छाए रहे। गुरुवार से मौसम साफ हो जाएगा। उन्होंने बताया कि राजधानी में आकाश मुख्यत: साफ रहने तथा शाम को आंशिक मेघमय रहने की संभावना है। न्यूनतम तापमान 14 डिग्री के आसपास रहेगा।
कहां कितनी हुई बारिश:

पंडरिया 6 सेमी, पथरिया 4 सेमी, कोटा , तखतपुर,खैरागढ़ में 3-3 सेमी, बिलासपुर , नगरी, बेमेतरा, छुई खदान में 2-2 से.मी बारिश हुई। जबकि अन्य जगहों पर एक-एक सेमी के करीब बारिश दर्ज की गई।

रातभर परेशान होते रहे उपभोक्ता

बीती रात मंगलवार को शहर में हुई तेज बारिश के दौरान शहर के अधिकांश इलाकों की बिजली गुल हुई, तो सीधे बुधवार की सुबह ही आई। रात में जैसे ही बिजली गुल हुई, तो लोग 1912 टोल फ्री पर शिकायत दर्ज कराने की कोशिश करते, लेकिन फोन ही नहीं लग रहा था। कई बार तो किसी दूसरे राज्य के बिजली विभाग में फोन लग रहा था।

तीन दिन से चल रही आंख मिचौली

शहर में शाम होते ही पिछले तीन दिनों से तेज हवा के साथ बारिश हो रही थी। हवा और बारिश शुरू होते ही बिजली की आंख मिचौली शुरू हो जाती थी। कुछ इलाके में तो एक बार बिजली गुल होने के बाद दो-तीन घंटे तो किसी इलाके में देर रात तक बिजली आई। गुढि़यारी, शिवानंद नगर, चूनाभट्टी इलाके में तो रात में बिजली गुल हुई तो सीधे सुबह ही आई।
इसलिए लग जाता है कि दूसरे राज्य में फोन:

बिजली विभाग द्वारा टोल फ्री नंबर 1912 में फोन लगाने पर दूसरे राज्य में फोन लगने के बारे में अधिकारियों को कहना है कि जिस मोबाइल नंबर से फोन लगाते हैं, वहां छत्तीसगढ़ राज्य में पंजीयन होना चाहिए, तभी छत्तीसगढ़ के बिजली विभाग में फोन लगेगा। यदि दूसरे राज्य में पंजीयन नंबर का उपयोग छत्तीसगढ़ में किया जा रहा है और उसी से बिजली संबंधी शिकायत के लिए टोल फ्री नंबर पर कॉल करेंगे, तो जिस राज्य का नंबर है, वहां के बिजली विभाग में फोन लगेगा। लैंडलाइन से एेसी समस्या बिल्कुल नहीं आती है।

रविवार को अंधड़ चलने के बाद जहां-जहां के तारे गिरे थे, उसे तो ठीक कर लिया गया है। मंगलवार को तेज हवा के साथ बारिश के दौरान कुछ देर के लिए बिजली गुल रही होगी। जहां तक पूरी रात गुल होने की बात है, तो संबंधित क्षेत्र के अधिकारियों से पूछ कर ही बता पाउंगा।
एचएस नरवरे, डायरेक्टर, विद्युत वितरण कंपनी

प्रमुख शहरों में कहां कितना तापमान और बारिश

स्थान अधि. न्यूनतम बारिश
रायपुर 26.7 16.1 11.0 मिमी
माना 26.2 15.0 15.0 मिमी
बिलासपुर 26.6 15.4 22.8 मिमी
पेंड्रारोड 24.4 11.3 12.4 मिमी
अंबिकापुर 21.9 12.2 16.6 मिमी

1
Ad Block is Banned