अब आप मकान की रजिस्ट्री करवाने जा रहे हैं तो उससे पहले पढ़े ये खबर

Chandu Nirmalkar

Publish: Feb, 15 2018 01:48:41 PM (IST)

Raipur, Chhattisgarh, India
अब आप मकान की रजिस्ट्री करवाने जा रहे हैं तो उससे पहले पढ़े ये खबर

रजिस्ट्री के 15 दिन बाद खुद ही हो जाएगा नामांतरण, तहसील कार्यालय के चक्कर लगाने से मिलेगा छुटकारा

रायपुर . जमीन की रजिस्ट्री कराने के बाद नामांतरण के लिए अब तहसील दफ्तर और दलालों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। प्रापर्टी की रजिस्ट्री के 15 दिनों के अंदर राजस्व महकमा स्वमेव नाम ट्रांसफर कर देगा। यह योजना राजस्व मंडल ने बनाई है।

प्रदेश के तहसील कार्यालय में जमीन की ऑनलाइन रजिस्ट्री की जा रही है। पहले की तरह मेन्युअल रजिस्ट्री पर पूरी तरह से रोक लगा दिया गया है। यानी रजिस्ट्री ऑफिस में सारा कामकाज कंप्यूटर के माध्यम से हो रहा है। बतादें कि ऑनलाइन रजिस्ट्री के बाद जमीन खरीदार को नामांतरण के लिए तहसील कार्यालय का चक्कर लगाना पड़ता है। वहां जमीन खरीदी से संबंधित सारे दस्तावेज जमा करने पड़ते हैं।
होती थी परेशानी
तहसील कार्यालय में नामांतरण का केस दर्ज होने के बाद पेशी चलती है। सुनवाई के दौरान जमीन विक्रेता को भी बुलाया जाता है। बायोमेट्रिक रजिस्ट्री होने के बाद सब कुछ ऑनलाइन हो गया है। जिसके चलते जमीन खरीदने के बाद भी लोगों को नामांतरण के लिए भटकना पड़ता है।


यह होगी प्रक्रिया
परेशानी को देखते हुए राजस्व मंडल की सचिव ने यह योजना शुरू करने के निर्देश दिए हैं। इसके तहत अब ऑनलाइन रजिस्ट्री होने के बाद एक लिंक संबंधित तहसील कार्यालय में चली जाएगी, जहां मौजूद कंप्यूटर ऑपरेटर तहसीलदार के आदेश पर 15 दिनों के अंदर जमीन खरीदने वाले के नाम पर जमीन को ट्रांसफर कर देगा।

5000 मामले हैं पेंडिंग
कलक्टर ने कुछ दिन पहले राजस्व समीक्षा बैठक बैठक ली थी। इसमें यह तथ्य सामने आया था कि रायपुर जिले में नामांतरण के 5000 मामले पेंडिंग हैं। लंबित मामलों का जल्द ही निराकरण करने का आदेश दिया है।

ऑनलाइन नामांतरण के लिए अभी समय लग सकता है। सभी रिकार्ड ऑनलाइन हो गए हैं लेकिन आधार लिंक व रिकार्ड वेरीफिकेशन किया जा रहा है। जल्द ही यह कार्य पूरा करके सुविधा शुरू की जाएगी।
हरिवंश मिरी, एसडीएम, रायपुर

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned