स्टेडियम में खाने-पीने का सामान नहीं ले जा सकेंगे दर्शक, कोरोना टेस्ट के बाद ही प्रवेश

रोड सेफ्टी वल्र्ड क्रिकेट सीरीज: तीन लेयर सुरक्षा व्यवस्था से गुजरना होगा दर्शकों को, सर्दी, खांसी और बुखार वाले दर्शकों को स्टेडियम में जाने की इजाजत नहीं

By: Nikesh Kumar Dewangan

Published: 26 Feb 2021, 07:13 PM IST

रायपुर. रोड सेफ्टी वल्र्ड क्रिकेट सीरीज के मैचों के दौरान दर्शकों को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था से गुजरना होगा। कोरोनाकाल में होने वाले बड़े टूर्नामेंट में आम दर्शकों को शासन की गाइडलाइन का पालन करना होगा। सभी दर्शकों के लिए मास्क अनिवार्य रहेगा। साथ ही तीन लेयर की निगरानी से दर्शकों को गुजरना पड़ेगा। सभी एंट्री प्वाइंट पर मेटल डिटेक्टर लगाए जाएंगे। सभी की थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी। कोरोना के संदिग्ध सर्दी-खांदी और बुखार वाले दर्शकों को स्टेडियम के अंदर प्रवेश नहीं दिया जाएगा, चाहे वह कितनी भी महंगी टिकट ले रखी हो। इसके अलावा दर्शक खाने-पीने का सामान भी नहीं ले जा सकेंगे।

मैच शुरू होने से एक घंटे पहले तक प्रवेश

स्टेडियम में दर्शकों को एक सीट छोड़कर बैठने की व्यवस्था रहेगी। स्टेडियम से एक बार बाहर आने पर दोबारा अंदर नहीं जाने दिया जाएगा। दर्शकों को स्टेडियम में पूरे समय अपने पास टिकट रखना होगा। मीडियाकर्मियों की भी होगी स्क्रीनिंग
मीडियाकर्मियों को भी स्टेडियम में जाने के समय स्क्रीनिंग की जाएगी। सभी वस्तुओं की जांच होगी। बुखार-सर्दी वाले पत्रकारों को प्रवेश नहीं दिया जाएगा।

स्टेडियम मेेंं ये चीजें लाने पर प्रतिबंध

मैच देखने के लिए दर्शक स्टेडियम में सिक्का, कैमरा, सेल्फी स्टिक, हेलमेट, कैन, खाने-पीने का सामान, पानी की बोतल, पावर बैंक, लाइटर, माचिस, लोहे की पिन, डंडा, टैबलेट, छतरी, किसी भी तरह के ज्वलनशील और विस्फोटक पदार्थ ले जाने पर प्रतिबंध रहेगा। हालांकि, मोबाइल ले जाने जाने की अनुमति रहेगी। आयोजकों की ओर से खाने-पीने के सामान की बिक्री के लिए स्टॉल स्टेडियम के अंदर लगाए जाएंगे। पानी की व्यवस्था आयोजकों की ओर से निशुल्क की जाएगी।

मेडिकल टीम तैनात

कोरोना के लिए निर्धारित गाइडलाइन का पालन कराने के लिए शासन की ओर से स्टेडियम और खिलाडिय़ों के ठहरने के स्थानों पर भारी भरकम मेडिकल टीम की ड्यूटी लगाई गई है।

ऐसी रहेगी मेडिकल जांच की व्यवस्था

  • प्रवेश द्वार क्रमांक-5 में बेस चिकित्सालय- 1 एंबुलेंस
  • स्टेडियम के प्रवेश द्वारा 2, 4, 6 व 8 मेें- 2 एम्बुलेंस
  • एयरपोर्ट- 1 एंबुलेंस
  • होटल मेफेयर- 1 एंबुलेंस
  • पवेलियन गेट-2 एंबुलेंस

मेडिकल टीम की तैनाती

  • बेस चिकित्सालय-एक डॉक्टर, एक फिजियोथैरेपिस्ट, दो नर्सिंग स्टॉफ, एक वार्ड ब्वॉय
  • मेडिकल कंट्रोल रूम: सीएमएचओ समेत 3 डॉक्टर, दो आरएमए, दो मेडिकल कॉडिनेटर, तीन कर्मचारी (ड्राइवर व मेडिकल ऑफिसर)
  • द्वार 2, 4, 6 व 8 में : एक-एक मेडिकल ऑफिसर, आरएमए, फिजियोथेरेपिस्ट, नर्सिंग अधिकारी।
  • वीआईपी गेट में: एक मेडिकल ऑफिसर, आयुष चिकित्सा अफसर, नर्सिंग अधिकारी।
  • होटल मेफेयर में: एक मेडिकल ऑफिसर, आरएमए, फिजियोथेरेपिस्ट, नर्सिंग अधिकारी, वार्ड ब्वॉय।

सीएमएचओ रायपुर के डॉ. मीरा बघेल ने बताया कि वल्र्ड सीरीज के लिए मेडिकल टीम गठित कर ली गई है। डॉक्टर व नर्सिंग स्टॉफ की ड्यूटी लगा दी गई है। इंग्लैड और ऑस्ट्रेलिया से आने वाली टीम के सदस्यों का एयरपोर्ट पर सैंपल लिया जाएगा और वह 7 दिन तक क्वारंटाइन में रहेंगे। दर्शकों की जांच के लिए सभी गेट पर थर्मल स्क्रीनिंग की व्यवस्था रहेगी। संदिग्धों को गेट के अंदर जाने की अनुमति नही दी जाएगी।

Nikesh Kumar Dewangan Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned