scriptVivah Muhurat 2022: Auspicious dates for marriage of the year 2022 | Vivah Muhurat 2022: इस साल मई-जून महीने में होगी शादियों की भरमार, जानिए 2022 के विवाह के शुभ मुहूर्त | Patrika News

Vivah Muhurat 2022: इस साल मई-जून महीने में होगी शादियों की भरमार, जानिए 2022 के विवाह के शुभ मुहूर्त

Vivah Muhurat 2022: मकर सक्रांति साथ ही वैवाहिक आयोजनों की रोक का खरमास समाप्त हो गया है। शनिवार प्रदोष के दिन से ही शुभ मुहूर्त शुभ कार्य शुरू हो गए हैं।

रायपुर

Published: January 17, 2022 02:03:27 pm

रायपुर. Vivah Muhurat 2022: मकर सक्रांति साथ ही वैवाहिक आयोजनों की रोक का खरमास समाप्त हो गया है। शनिवार प्रदोष के दिन से ही शुभ मुहूर्त शुभ कार्य शुरू हो गए हैं। हालांकि कोरोना का असर होने की वजह से सरकार ने मेहमानों की संख्या घटा दी है, जिसकी वजह से जनवरी और फरवरी में होने वाले वैवाहिक आयोजनों में लोगों के उत्साह में कमी आई है।
shubh_vivah_muhurat_.jpg
Vivah Muhurat 2022: इस साल मई-जून महीने में होगी शादियों की भरमार, जानिए 2022 के विवाह के शुभ मुहूर्त
सबसे अच्छे संकेत दूसरे वैवाहिक सीजन (Wedding Season) यानी अप्रैल मई व जून में होने वाले वैवाहिक आयोजनों के लिए हैं। इस दौरान सबसे ज्यादा शुभ मुहूर्त रहेंगे और संभावना है कि कोरोना का असर मई और जून में कम हो जाएगा।
वसंत पंचमी, अक्षय तृतीया और देवउठनी अबूझ मुहूर्त को मिलाकर शादियों के लिए कुल 52 दिन शुभ रहेंगे। इस साल जनवरी में 3 और फरवरी में 8 विवाह मुहूर्त रहेंगे। फिर अप्रैल में 6 दिन शादियों हो पाएंगी। वहीं, सबसे ज्यादा विवाह मुहूर्त मई में 15 और जून में 12 दिन रहेंगे। इसके बाद जुलाई में 5 दिन और नवंबर में 4 दिन और दिसंबर में 7 विवाह मुहूर्त रहेंगे।
ज्योतिषाचार्य पवन शास्त्री रीवा वाले ने बताया गुरु अस्त होने से पहले विवाह सीजन के बाद 22 फरवरी तक शादियां हो पाएंगी। 23 फरवरी को गुरु अस्त हो जाने के बाद 17 अप्रैल से शादियों का सीजन शुरू होगा। जो कि 8 जुलाई तक रहेगा। फिर 10 जुलाई को देवशयन होने से चातुर्मास शुरू हो जाएगा और 20 नवंबर तक शादियों के लिए मुहूर्त नहीं रहेंगे। इसके बाद 21 नवंबर से 14 दिसंबर तक सिर्फ 9 ही विवाह मुहूर्त होंगे।
दो बार शुक्र अस्त, लेकिन मुहूर्त पर असर नहीं
ज्योतिषाचार्य संतोष शर्मा ने बताया कि इस साल शुक्र दो बार अस्त हो रहा है। पहला, जनवरी में खरमास के समय और दूसरी बार अक्टूबर-नवंबर में चातुर्मास के दौरान। इस तरह साल में कुल 55 दिन तक शुक्र अस्त रहेगा। लेकिन 23 फरवरी से 27 मार्च तक गुरु ग्रह के अस्त होने की वजह से इन दिनों होने वाले विवाह मुहूर्त पर असर पड़ेगा। इस बार वसंत पंचमी पर शुक्र और गुरु ग्रह उदय रहने से विवाह मुहूर्त में रुकावट नहीं होगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी टोक्यो पहुंचे, भारतीय प्रवासियों ने किया स्वागत, जापानी बच्चे के हिन्दी बोलने पर गदगद हुए PMदिल्ली-NCR में सुबह आंधी और बारिश से कई जगह उखड़े पेड़, विमान सेवा प्रभावितज्ञानवापी मामले के बीच गोवा के सीएम का बड़ा बयान, प्रमोद सावंत बोले- 'जहां भी मंदिर तोड़े गए फिर से बनाए जाएं'BJP को सरकार बनाने के लिए क्यों जरूरी है काशी और मथुरा? अयोध्या से बड़ा संदेश देने की तैयारीबेल्जियम, पहला देश जिसने मंकीपॉक्स वायरस के लिए अनिवार्य किया क्वारंटाइनएशिया कप हॉकी: पहले ही मैच में भिड़ेंगे भारत और पाकिस्तान, ऐसा है दोनों टीमों का रिकॉर्डआख़िर क्यों असदुद्दीन ओवैसी बार-बार प्लेसेज ऑफ़ वर्शिप एक्ट की बात कर रहे हैं, जानें क्या है यह एक्टकपिल देव के AAP में शामिल होने की चर्चा निकली गलत, सोशल मीडिया पर पूर्व कप्तान ने खुद साफ की स्थिति
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.