चित्रकोट विधानसभा उपचुनाव: वोट डालने दांव पर लगाई जान, आधा किमी चौड़ी नदी को तैरकर बूथ तक पहुंचे

उन्होंने कहा कि लोकतंत्र ही एक एेसा जरिया है, जिससे उनकी यह समस्या दूर हो सकती है। इसलिए वे अपनी हर वोट की कीमत को समझते हुए यहां मतदान करने आए हैं। इसके बाद वे करेकोट पहुंचे और मतदान किया। फिर तैरकर वापस अपने गांव चले गए।

रायपुर/जगदलपुर. धुर माओवाद प्रभावित बिंता के सबसे दूरूस्थ इलाके कांटाबांस के ग्रामीण सोमवार को चित्रकोट विधानसभा उपचुनाव में अपनी जान दांव पर लगाकर लोकतंत्र में अपनी हिस्सेदारी निभाने करेकोट स्थित बूथ तक पहुंचे। बूथ तक पहुंचने के लिए उन्हें इंद्रावती नदी को पार करना था।

चित्रकोट विधानसभा उपचुनाव (Chitrakot Assembly Bypoll) की कवरेज के लिए जब पत्रिका टीम नदी के करीब पहुंची, तो कुछ लोग इंद्रावती के तट पर नदी पार करते हुए नजर आए। पास पहुंचे तो इन लोगों ने बताया कि पुल-पुलिया न होने से वे नदी पार कर यहां आए हैं। गौरतलब है कि लगातार बारिश की वजह से इंद्रावती नदी का जलस्तर काफी अधिक है। बावजूद इसके विकास की उम्मीद में वे जान दांव में लागाकर नदी पार कर पोलिंग बूथ तक पहुंचे।

नाविक ने महिलाओं से नहीं लिए पैसे
कांटाबांस इलाके के ग्रामीणों के सामने माओवादियों की दहशत और नदी पार करने की बांधा थी। बावजूद इसके इलाके से बड़ी संख्या में लोग मतदान के लिए इन दोनों बाधाओं को पार कर पहुंचे। दोपहर २ बजे तक यहां ८० प्रतिशत मतदान कांटाबांस के लोग कर चुके थे। सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए ग्रामीणों ने महिलाओं को नाव से भेजा ओर पुरूष नदी तैरकर मतदान करने पहुंचे। वहीं दूसरी तरफ नाविक भी इस पर्व में ग्रामीणों का सहयोग देते नजर आए। उन्होंने महिलाओं और बच्चों को नि:शुल्क नदी पार करवाया।

यह है वो लोकतंत्र के जाबांज, उम्मीद अभी बाकी है
जब से पैदा हुआ हूं तब से छोटी-छोटी चीजों के लिए नदी पार करते आ रहे हैं। जब पानी ज्यादा होता है तो नदी में नहीं उतरते। लेकिन गांव वालों का कहना है कि यदि वोट दिए तो हो सकता है पुलिया बन जाए। इसलिए बहाव के बाद भी नदी तैर कर आए हैं। अब तक मांग पूरी नहीुं हुई लेकिन उम्मीद बाकी है।
जितरू

मेरे बेटे जान जोखिम में न डालें, इसलिए वोट डालने आए
पिछली बारिश में गांव के दो लोग जलभराव की वजह से समय पर अस्पताल नहीं पहुंच सके थे। इसलिए उनकी मौत हो गई थी। मेरी उम्र तो निकल गई। लेकिन अब बेटे और आने वाली पीढ़ी को इस तरह जान जोखिम में न डालना पड़े इसलिए वोट डालने आए हैं। उम्मीद है जल्द विकास होगा।
मंगलू

Show More
शिव शर्मा
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned