scriptWant to be called : Electricity contract worker lying in the ground | कहा जाना चाहते है : जमीन में लेटकर विद्युत संविदा कर्मी | Patrika News

कहा जाना चाहते है : जमीन में लेटकर विद्युत संविदा कर्मी

- जाना था सप्रेशाला मैदान , पुलिस से स्मार्ट सिटी कार्यालय के पास रोक दिया।

- दो घंटे तक जमीन पर लेटे रहे प्रदर्शनकारी

रायपुर

Published: April 01, 2022 06:56:18 pm

रायपुर@ छत्तीसगढ़ विद्युत संविदा कर्मियों (chhattisgarh electricity contract workers) अनिश्चित कालीन प्रदर्शन निरंतर तूल पकड़ रही हैं, अपनी दो सूत्रीय मांगों को लेकर अड़े कर्मचारियों की 21 दिन भी हड़ताल जारी रहा।अपनी मांग को लेकर संविदा कर्मी दोपहर दो बजे करीब बूढ़ा तालाब धरना स्थल (Budha Talab picket site) से सप्रेशाला मैदान (Sapressala Ground) के लिए सड़क पर दंडवत लेट कर सरकार से गुहार लगाने जा रहे थे। जिसे पुलिस बल ने स्मार्ट सिटी कार्यालय के पार बैरिकेड्स लगाकार रोक दिया। इस दौरान संविदा विद्युत कर्मी दो घंटे तक सड़क पर लेटकर (lying on the street) ही शासन व पावर कंपनी (government and power company) के खिलाफ नाराबाजी करते रहे हैं।
Want to be called : Electricity contract worker lying in the ground
कहा जाना चाहते है : जमीन में लेटकर विद्युत संविदा कर्मी
यह भी पढ़ें - संविदा विद्युत कर्मचारी संघ ने हनुमान चालीसा कर किया विरोध
यह भी पढ़ें -बिना पंडित व रस्म हम तेरे, महिला को जाना पड़ा नारी निकेतन
यह भी पढ़ें -महापौर साहब गार्डन में सामुदायिक भवन बन जायेगा तो बच्चे खेलेंगे कहा ?
यह भी पढ़ें - ऐसा क्या हो गया : जो स्वास्थ्य संयोजकों को बजाना पढ़ रहा हैं थाली और घंटी
संघ के पदाधिकारियों ने बताया, सरकार व विद्युत कंपनी प्रबंधन द्वारा संविदा कर्मियों को रिक्त पदों पर नियमित व विद्युत दुर्घटनाओं में शहीद संविदा कर्मियों के परिवार को अनुकंपा नियुक्ति की मांग पर ध्यान नहीं दिया जा रहा हैं, और न ही कोई सुध ले रही हैं। जिसके कारण आंदोलन के 21 वे दिन सभी संविदा विद्युत कर्मियों द्वारा बूढ़ापारा धरना स्थल से छग राज्य संविदा विद्युत कर्मचारी संघ के बैनर तले अनिश्चित कालीन आंदोलन के 21वें दिन धरना स्थल से मुख्यमंत्री जी एवं पॉवर कम्पनी प्रबंधन से दंडवत प्रणाम कर जमीन में लोट कर गुहार लगया कि संविदा कर्मियों के वेदना को समझ सामाजिक सुरक्षा सुनिश्चित करें। समय रहते सरकार हमारी मांगों को पूरा कर दें। वरना प्रदेशभर में उग्र आंदोलन किया जाएगा। जिसके लिए सरकार जिम्मेदार होगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

Thailand Open: PV Sindhu ने वर्ल्ड की नंबर 1 खिलाड़ी Akane Yamaguchi को हराकर सेमीफाइनल में बनाई जगहIPL 2022 RR vs CSK Live Updates: रोमांचक मुकाबले में राजस्थान ने चेन्नई को 5 विकेट से हरायासुप्रीम कोर्ट में अपने लास्ट डे पर बोले जस्टिस एलएन राव- 'जज साधु-संन्यासी नहीं होते, हम पर भी होता है काम का दबाव'ज्ञानवापी मस्जिद केसः सुप्रीम कोर्ट का सुझाव, मामला जिला जज के पास भेजा जाए, सभी पक्षों के हित सुरक्षित रखे जाएंशिक्षा मंत्री की बेटी को कलकत्ता हाई कोर्ट ने दिए बर्खास्त करने के निर्देश, लौटाना होगा 41 महीने का वेतनCBI रेड के बाद तेजस्वी यादव ने केंद्र सरकार पर कसा तंज, कहा - 'ऐ हवा जाकर कह दो, दिल्ली के दरबारों से, नहीं डरा है, नहीं डरेगा लालू इन सरकारों से'Ola-Uber की मनमानी पर लगेगी लगाम! CCPA ने अनुचित व्यवहार के लिए भेजा नोटिस, 15 दिन में नहीं दिया जवाब तो हो सकती है कार्रवाईHyderabad Encounter Case: सुप्रीम कोर्ट के जांच आयोग ने हैदराबाद एनकाउंटर को बताया फर्जी, पुलिसकर्मी दोषी करार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.