scriptwaste plastic will become an alternative to petrol and diesel | दसवीं के छात्र का रिसर्च, वेस्ट प्लास्टिक बनेगा पेट्रोल-डीजल का विकल्प | Patrika News

दसवीं के छात्र का रिसर्च, वेस्ट प्लास्टिक बनेगा पेट्रोल-डीजल का विकल्प

सिटी के आर्यन का प्रोजेक्ट इंटरनेशनल के लिए सलेक्ट, 27-28 मई को वड़ोदरा में हुआ था नेशनल कॉम्पीटिशन

रायपुर

Published: June 07, 2022 01:51:34 am

ताबीर हुसैन/ मानसी साहू @ रायपुर. बढ़ते शहरीकरण और वाहनों के चलते पेट्रोल-डीजल की मांग बढ़ रही है। जाहिर है डिमांड ज्यादा होने से दाम भी आसमान छू रहे हैं। हालांकि इसका विकल्प इलेक्ट्रानिक वाहन बन रहे हैं लेकिन सोचिए अगर वेस्ट प्लास्टिक फ्ूयल के अल्टरने बन जाएं तो? है न कमाल की बात। एक निजी स्कूल के दसवीं के छात्र आर्यन हरलालका इस पर रिसर्च कर रहे हैं। 27-28 मई को गुजरात के वड़ोदरा में आयोजित नेशनल कॉम्पीटिशन में आर्यनने अपना प्रोजेक्ट पेश किया। यह प्रतियोगिता इंडियन यूथ इनोवेटर्स एंड इन्वेस्टर्स चैलेंज एनओएसटीसी आयोजित की गई थी । निर्णायक उनके प्रोजेक्ट से इतना प्रभावित हुए कि गोवा में होने वाले इंटरनेशनल में उनका सलेक्शन हो गया है। यहां 48 देशों के छात्र हिस्सा ले रहे हैं।
दसवीं के छात्र का रिसर्च, वेस्ट प्लास्टिक बनेगा पेट्रोल-डीजल का विकल्प
वड़ोदरा में आयोजित नेशनल कॉम्पीटिशन में अपने प्रोजेक्ट को समझाते हुए एनएच गोयल स्कूल के दसवीं के छात्र आर्यन।
एअर टाइट कंडीशन में हिट करते हैं प्लास्टिक

स्वर्णभूमि निवासी आर्यन ने बताया कि यह प्रयोग एअरटाइट कंडीशन में किया जाता है। प्लास्टिक को एक लेवल में हिट करने से गैस तैयार होती है। यह ऐसी गैस होती है जिससे आग लग सके। गैस को लिक्विड फॉर्म में बदलना होता है। अगर हम प्लास्टिक को 400 डिग्री सेल्सिय में गर्म करें तो डीजल के अल्टरनेट वाली गैस मिलेगी और यदि 800 डिग्री सेल्सियस में गर्म करें तो पेट्रोल के ऑप्शन वाली गैस मिलेगी।
संभव नहीं था, इसलिए वीडियो बनाकर ले गए

हमने एक बार एक्सपेरिमेंट किया है। चूंकि यह प्रोसेस इतना आसान नहीं है। इसलिए हमने वीडियो बनाकर नेशनल में प्रजेंट किया।
मेरा लक्ष्य है कि प्लास्टिक वेस्ट को उपयोग कर पर्यावरण के प्रदूषण को किया जाए । मैंने इस मॉडल को शुरुआत में प्रेशर कुकर कंटेनर, पाइप कंटेनर आदि से बनाया था लेकिन सितंबर में होने वाली अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता के लिए बेहतर मटेरियल से बनाने की कोशिश कर रहा हूं।
सातवीं कक्षा में आया था आइडिया
4 साल पहले मैंने एक वीडियो देखा। जिसमें बताया गया कि रायपुर में प्रतिदिन 80 टन प्लास्टिक वेस्ट निकलता है । मेरी दीदी अंशिका उस समय स्कूल में प्रोजेक्ट्स में काम किया करती थी। मैंने उनके समक्ष अपनी बात रखी। दीदी ने मुझे प्रोत्साहित किया और गाइड टीचर मुक्तिनाथ सिंह से मिलवाया। जुलाई 2021 से मैंने फोकस्ड होकर इस मॉडल को बनाने की शुरवात की। आर्यन के पिता अशोक कुमार हरलालका सीए हैं और मम्मी मीरू हरलालका हाउसवाइफ।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

Eknath Shinde Property: मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे से 12 गुना ज्यादा अमीर हैं शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे, जानें किसके पास कितनी संपत्तिपश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री के आवास में घुसने वाले शख्स ने परिसर को समझ लिया था कोलकाता पुलिस का मुख्यालयबीजेपी नेता कपिल मिश्रा को मिली जान से मारने की धमकी, ईमेल में लिखा - 'हम तुम्हें जीने नहीं देंगे'हैदराबाद के एक कार्यक्रम में भाग लेने पहुंचे RCP सिंह तो BJP में शामिल होने की लगने लगी अटकलें, भाजपा ने कही ये बातप्रदेश के भोपाल, इंदौर समेत 11 नगर निगमों में मतदान 6 को, चुनावी शोर थमाकानपुर मेट्रो: टनल बनाने का काम शुरू, देश को समर्पित करने के विषय में मिली ये जानकारीउदयपुर कन्हैया हत्याकांड का वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट करने पर युवक गिरफ्तारवरिष्ठता क्रम सही करने आरक्षकों की याचिका पर विभाग को 21 दिन में निर्णय लेने का आदेश
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.