scriptWhen angry sages and saints staged a sit-in on the Belahi bridge, know | जब नाराज साधु-संतों ने बेलाही पुल पर दिया धरना, जानिए कारण | Patrika News

जब नाराज साधु-संतों ने बेलाही पुल पर दिया धरना, जानिए कारण

राजिम माघी पुन्नी मेला में आए साधु-संतों ने दक्षिणा नहीं मिलने पर जताई नाराजगी

रायपुर

Published: March 05, 2022 06:27:23 pm

नवापारा-राजिम. साधु संत समाज ने महाशिवरात्रि के बाद शासन-प्रशासन व्दारा खाना-पानी की सुविधा मुहैया न कराने व आने-जाने के लिए दक्षिणा नहीं दिए जाने से नाराज होकर लोमश ऋषि आश्रम के समीप बेलाही घाट पुल के अंतिम छोर में धरने पर बैठ गए और आवागमन बंद कर दिया।
साधु संतों ने कहा कि शाही स्नान के पूर्व मध्य रात्रि एक मैडम आई जो अपने आपको कलेक्टर बता रही थी। उन्होंने कहा था कि शाही स्नान में शामिल होवें और उसके बाद आपको दक्षिणा मिल जाएगी। दक्षिणा मिलना तो दूर आज तक कोई मिलने नहीं आया। अंतत: प्रशासन को झुकना पड़ा और दक्षिणा की व्यवस्था कर रायपुर के लिए बस की व्यवस्था की गई
दोपहर एक बजे तक जब कोई भी जवाबदारी अधिकारियों के नहीं पहुंचने पर संतों ने कांग्रेस को जमकर कोसा और कहा कि साधु संत कांग्रेस को श्राप देते हैं कि आने वाले चुनाव में उनकी सरकार नहीं आएगी। इसी बीच भाजपा शासनकाल में किए जाने वाले सम्मान की प्रशंसा की और कहा कि अब जब भाजपा की सरकार आएगी, तभी राजिम आएंगे।
टीआई ने की मध्यस्थता
साधु-संतों के धरने में बैठने की खबर नगर में आग की तरह फैल गई। यह खबर सुनते ही नवापारा टीआई दल-बल सहित धरनास्थल पर पहुंचे। वहीं, भाजपा के युवा नेता किशोर देवंागन, विकास साहू भी वहां पहुंचकर साधु संतों और अधिकारियों के मध्य मध्यस्थता कराने का भरपूर प्रयास किया। तब कही 2 बजे गरियाबंद जिले के अधिकारी पहुंचे और उनकी समस्याओं का निराकरण करने का हल निकाला। धरने के दौरान वहां से किसी को भी आने जाने नहीं दिया जा रहा था। मगर, साधु-संतों ने छात्रों और बीमार व्यक्तियों की गाडिय़ों को आने जाने से नहीं रोका। सबेरे से भूखे प्यासे बैठे साधु संतों को टीआई बोधन साहू, भाजपा नेता किशोर देवंागन, विकास साहू व्दारा जब साधु संतों को फल दिया गया तो उन्होंने यह कहते हुए लेने से इनकार कर दिया कि जब तक हमारी मंाग पूरी नहीं होगी, तब तक उन्होंने कुछ भी लेने से मना कर दिया। वहीं, धमतरी जिले की पुलिस मूकदर्शक बनी खड़ी रही और राजिम पुलिस वहंा पहुंची भी नहीं। मगर गरियाबंद जिले के अधिकारी अपर कलेक्टर चौरसिया, राजिम एसडीएम अविनाश भोई, तहसीलदार टोप्पो व पाठक धरनास्थल पर पहुंचे और संतों को समझाइश देते रहे। अंतत: प्रशासन को झुकना पड़ा और दक्षिणा की व्यवस्था कर रायपुर के लिए बस की व्यवस्था की गई।
जब नाराज साधु-संतों ने बेलाही पुल पर दिया धरना, जानिए कारण
जब नाराज साधु-संतों ने बेलाही पुल पर दिया धरना, जानिए कारण

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ज्योतिष: ऊंची किस्मत लेकर जन्मी होती हैं इन नाम की लड़कियां, लाइफ में खूब कमाती हैं पैसाशनि देव जल्द कर्क, वृश्चिक और मीन वालों को देने वाले हैं बड़ी राहत, ये है वजहताजमहल बनाने वाले कारीगर के वंशज ने खोले कई राजपापी ग्रह राहु 2023 तक 3 राशियों पर रहेगा मेहरबान, हर काम में मिलेगी सफलताजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथJaya Kishori: शादी को लेकर जया किशोरी को इस बात का है डर, रखी है ये शर्तखुशखबरी: LPG घरेलू गैस सिलेंडर का रेट कम करने का फैसला, जानें कितनी मिलेगी राहतनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

IPL 2022: टिम डेविड की तूफानी पारी, मुंबई ने दिल्ली को 5 विकेट से हराया, RCB प्लेऑफ मेंपेट्रोल-डीज़ल होगा सस्ता, गैस सिलेंडर पर भी मिलेगी सब्सिडी, केंद्र सरकार ने किया बड़ा ऐलान'हमारे लिए हमेशा लोग पहले होते हैं', पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कटौती पर पीएम मोदीArchery World Cup: भारतीय कंपाउंड टीम ने जीता गोल्ड मेडल, फ्रांस को हरा लगातार दूसरी बार बने चैम्पियनआय से अधिक संपत्ति मामले में ओम प्रकाश चौटाला दोषी करार, 26 मई को सजा पर होगी बहसऑस्ट्रेलिया के चुनावों में प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन हारे, एंथनी अल्बनीज होंगे नए PM, जानें कौन हैं येगुजरात में BJP को बड़ा झटका, कांग्रेस व आदिवासियों के लगातार विरोध के बाद पार-तापी नर्मदा रिवर लिंक प्रोजेक्ट रद्दजापान में होगा तीसरा क्वाड समिट, 23-24 मई को PM मोदी का जापान दौरा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.