scriptWomen are becoming selfsufficient by making broom earning good profits | महिलाएं झाड़ू बनाकर साफ़ कर रही आर्थिक तंगी की गंदगी, बढ़ रहीं आत्मनिर्भरता की ओर | Patrika News

महिलाएं झाड़ू बनाकर साफ़ कर रही आर्थिक तंगी की गंदगी, बढ़ रहीं आत्मनिर्भरता की ओर

locationरायपुरPublished: Oct 03, 2022 11:09:38 am

Submitted by:

Sakshi Dewangan

महिलाओं ने समूह बनाकर झाड़ू बनाने का काम शुरू किया है। आइए आपको बताते हैं कि इन महिलाओं ने किस तरह से राज्य सरकार की मदद से एक झाड़ू से ही अपने जिंदगी की आर्थिक तंगी को झाड़ दिया है।

manendragarhkoriyajhadu
,,,,

मनेंद्रगढ़. छत्तीसगड़ के नवगठित जिला मनेंद्रगढ़ में वन क्षेत्र की अधिकता है, और आजीविका के साधन सीमित हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में निवास करने वाले लोगों के लिए लघुवनोपज आजीविका का महत्वपूर्ण माध्यम है। लेकिन अब वन से मिलने वाली विशेष प्रकार की घास से झाड़ू का बनाकर महिलाओं ने इससे अपनी आय का साधन बना लिया है। क्योंकि महिलाओं ने समूह बनाकर झाड़ू बनाने का काम शुरू किया है। आइए आपको बताते हैं कि इन महिलाओं ने किस तरह से राज्य सरकार की मदद से एक झाड़ू से ही अपने जिंदगी की आर्थिक तंगी को झाड़ दिया है।

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.