scriptWorship Ayyappa Swamy, climbed the holy 18 steps, danced in devotion | अय्यप्पा स्वामी की पूजा अभिषेकम कर पवित्र 18 सीढिय़ों में किया आरोहण, भक्ति में झूमे | Patrika News

अय्यप्पा स्वामी की पूजा अभिषेकम कर पवित्र 18 सीढिय़ों में किया आरोहण, भक्ति में झूमे

- टाटीबंध मंदिर में मंडल पूजा उत्सव रमा रहा केरला समाज.

रायपुर

Published: December 27, 2021 03:03:18 am

रायपुर. केरल समाज रविवार को दिनभर मंडल पूजा उत्सव में रमा रहा। प्रभातफेरी से शुरू पूजा उत्सव देर शाम तक चला। भगवान अय्यप्पा स्वामी की विधि-विधान से पूजा-अभिषेकम् करके मंदिर की पवित्र सीढिय़ों पर सिर पर विशेष पोटली लेकर आरोहण किया तथा भगवान से सुख-समृद्धि की कामना की।

अय्यप्पा स्वामी की पूजा अभिषेकम कर पवित्र 18 सीढिय़ों में किया आरोहण, भक्ति में झूमे
अय्यप्पा स्वामी की पूजा अभिषेकम कर पवित्र 18 सीढिय़ों में किया आरोहण (फोटो त्रिलोचन मानिकपुरी)

समाज के लोग हर साल राजधानी के टाटीबंध रिंग रोड-2 पर श्री अय्यप्पा स्वामी मंदिर में पूजा अभिषेकम् में जुटते हैं। इसी पूजा उत्सव के दिन मंदिर की सभी 18 पवित्र सीढिय़ों से होकर भगवान के गर्भगृह में प्रवेश का सौभाग्य भक्त परिवारों को मिलता है, जो विशेष परिधान में नजर आते हैं। मंत्रोच्चार और भजन गंगा के बीच सभी बारी-बारी पूजा-अर्चना कर भगवान अय्यप्पा स्वामी के दर्शन करते हैं। इस दौरान मंदिर परिसर में भक्तिमय माहौल दिनभर रहता है। सभी जगहों से समाज के लोग भगवान के मंडल पूजा उत्सव में भक्तिभाव से शामिल होते हैं। जैसा उत्सव केरल के शबरीमाला मंदिर में संपन्न किया जाता है।

sabrimala_mandir.jpg

श्री अय्यप्पा सेवा संघम् के अध्यक्ष विनोद पिल्लई तथा सचिव एमएन सुकुमारन ने बताया कि साल के आखिरी सप्ताह का यह सबसे बड़ा पूजा उत्सव होता है। जो कि पारंपरिक और वैदिक विधान से संपन्न किया जाता है। जो श्रद्धालु पहले से मंदिर कार्यालय में पंजीयन कराए रहते हैं, उन्हें ही मंडल पूजा उत्सव में मंदिर की पवित्र अय्यप्पा सीढिय़ों पर आरोहण करने का मौका मिलता है। इस बार 50 से अधिक कठोर व्रतधारी भक्तों को यह सौभाग्य प्राप्त हुआ है, जिन्होंने पवित्र सीढिय़ों का आरोहण कर मंदिर के गर्भगृह तक पहुंचे।

भोर से शुरू हुआ पूजन, भजन गंगा देर शाम तक गूंजित
भोर 4.30 बजे प्रभात फेरी के बाद पूजा अभिषेक का विधान प्रारंभ हुआ। इस दौरान भगवान अय्यप्पा के जयकारे से पूरा परिसर गुंजित हुआ। देर शाम तक भजन गंगा का हजारों भक्तों ने आनंद लिया। शाम के समय पवित्र सीढिय़ां दीप मालाओं से रोशन हुई। मनोकामना पूर्ण करने की मन्नत से सैकड़ों भक्तों ने दीप जलाकर आराधना की। भजन गंगा के बीच भोग पूजा के बाद प्रसाद वितरित किया गया। पूजा उत्सव कोरोना नियमों के अनुसार संपन्न किया गया। अब मकर संक्रांति पर मंदिर की पवित्र सीढिय़ां खुलेंगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Health Tips: रोजाना बादाम खाने के कई फायदे , जानिए इसे खाने का सही तरीकाCash Limit in Bank: बैंक में ज्यादा पैसा रखें या नहीं, जानिए क्या हो सकती है दिक्कतSchool Holidays in January 2022: साल के पहले महीने में इतने दिन बंद रहेंगे स्कूल, जानिए कितनी छुट्टियां हैं पूरे सालVideo: राजस्थान में 28 जनवरी तक शीतलहर का पहरा, तीखे होंगे सर्दी के तेवर, गिरेगा तापमानJhalawar News : ऐसा क्या हुआ कि गुस्से में प्रधानाचार्य ने चबाया व्याख्याता का पंजामां लक्ष्मी का रूप मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां, चमका देती हैं ससुराल वालों की किस्मतAaj Ka Rashifal - 24 January 2022: कुंभ राशि वालों की व्यापारिक उन्नति होगीMaruti की इस सस्ती 7-सीटर कार के दीवाने हुएं लोग, कंपनी ने बेच दी 1 लाख से ज्यादा यूनिट्स, कीमत 4.53 लाख रुपये

बड़ी खबरें

शरीयत पर हाईकोर्ट का अहम आदेश, काजी के फैसलों पर कही ये बातCovid-19 Update: दिल्ली में बीते 24 घंटों में आए कोरोना के 5,760 नए मामले, संक्रमण दर 11.79%Republic Day 2022 parade guidelines: कोरोना की दोनों वैक्सीन ले चुके लोग ही इस बार परेड देखने जा सकेंगे, जानिए पूरी गाइडलाइन्सएमपी में तैयार हो रही सैंकड़ों फूड प्रोसेसिंग यूनिट, हजारों लोगों को मिलेगा कामDelhi Metro: गणतंत्र दिवस पर इन रूटों पर नहीं कर सकेंगे सफर, DMRC ने जारी की एडवाइजरीवाटर टूरिज्म से बढ़ेंगे पर्यटक, रमौआ और तिघरा डैम में वाटर स्पोट्र्स एक्टिविटी की तैयारीदलित का घोड़े पर बैठना नहीं आया रास, दूल्हे के घर पर तोड़फोड़, महिलाओं को पीटाNational Voters' Day: पहली बार वोट देने वाले जानें अपने अधिकार और जिम्मेदारी के बारे में
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.